Causes of tingling in Feet || किडनी डैमेज ही नहीं इन 5 बीमारियों का संकेत, लक्षण दिखने पर तुरंत कराएं टेस्ट

पैरों और हाथों में झुनझुनी के पीछे कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। आइए जानते हैं इन परेशानियों के बारे में-
 Causes of tingling in Feet || किडनी डैमेज ही नहीं इन 5 बीमारियों का संकेत, लक्षण दिखने पर तुरंत कराएं टेस्ट
Causes of tingling in Feet || Image credits: TV9 Bharatvarsh

 Causes of tingling in Feet || पैरों में झनझनाहट (tingling ) के ये हैं कारण: हाथ-पैरों में झनझनाहट (tingling ) की समस्या को हम काफी सामान्य मानते हैं।हालाँकि, कुछ मामलों में ये लक्षण गंभीर (serious) हो सकते हैं। ऐसे में अगर आपको हाथ-पैरों में झनझनाहट की समस्या हो रही है तो इसे नजरअंदाज करने से बचें।दरअसल, पैरों में झनझनाहट के पीछे कई गंभीर बीमारियां (serious  disease) हो सकती हैं, जिनमें डायबिटीज से लेकर किडनी की बीमारी तक शामिल हैं। दरअसल, किडनी में किसी तरह की समस्या होने पर ब्लड को डिटॉक्सिफाई करने में दिक्कत हो सकती है, जो आपके नर्वस सिस्टम (nurvous system) को नुकसान पहुंचा सकता है। 

Aggarwal
पैरों में झुनझुनी की समस्या के पीछे मधुमेह (diabitise) की समस्या भी हो सकती है। बढ़ी हुई रक्त शर्करा तंत्रिका तंत्र को नुकसान पहुंचा सकती है, जिससे झुनझुनी हो सकती है। हाथ-पैरों में झनझनाहट की समस्या के पीछे ऑटोइम्यून बीमारियों (autoimmune disease) का खतरा हो सकता है, जिससे रूमेटाइड अर्थराइटिस, कमजोर इम्यूनिटी ( weak immunity) , ल्यूपस आदि हो सकता है। अगर आपको ऐसे लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

आइए जानते हैं कि हाथ-पैरों में झनझनाहट के पीछे क्या कारण है?

पैरों में झनझनाहट होने का कारण किडनी फेलियर (kidney failure) भी हो सकता है।इससे पैरों में सूजन हो सकती है। इसके अलावा डायबिटीज के मरीजों को प्यास भी बहुत लगती है! संक्रमण (infection) के कारण हाथ में सूजन हो सकती है। पैरों में झनझनाहट के पीछे इंफेक्शन की समस्या भी हो सकती है। मुख्य रूप से वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण (bacterial infection) के कारण नसें क्षतिग्रस्त होने लगती हैं, जिसके कारण हाथ-पैरों में चुभन और दर्द होने लगता है। अगर आपको ऐसे लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर  (bdoctor) से सलाह लें।

नसों में कोई समस्या होने पर हाथ-पैरों में झनझनाहट (tingling) की समस्या हो सकती है।दरअसल, जब नसों पर दबाव ( pressure)nपड़ता है तो इससे हाथ-पैरों में झनझनाहट होने लगती है।इस स्थिति को कार्पल टनल सिंड्रोम कहा जाता है।अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव कर रहे हैं तो इन्हें नजरअंदाज (ignore) करने से बचें।

यह भी पढ़ें ||  Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम

सुपर स्टोरी

Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग
Viral Video News ||  जैसा कि कहा जाता है, हौसला होने पर अवसर मिलते हैं- गुजरात के तीन फीट के...
Success Story || दर्जी की बिटिया ने छू लिया 'आसमान', गरीबी से उठकर बनी जज
Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम
Driving Licence New Rules || 1 जून से लागू होंगे नए नियम, हो जाएं सावधान वरना देना होगा 25 हजार का जुर्माना
Credit Card का करते हैं इस्तेमाल तो भूलकर भी न करें ये गलती, क्रेडिट स्कोर हो जाएगा खराब
PHD के छात्र ने बनाया जबरदस्त रिकॉर्ड, अपने नाम किये 1000 से ज्यादा सर्टिफिकेट, यहां दर्ज हुआ नाम
Premanand ji Maharaj || प्रेमानंद महाराज ने बताया, भूलकर ना रखें ये दो चीज बकाया,
ATM Scam : कभी भी गलती से ATM मशीन के पास न करें यह काम, एक गलती से हो जाएंगे कंगाल, भयंकर स्कैम चल रहा
Aadhaar Related Crimes : जेल पहुंचा सकती है आधार से जुड़ी ये गलती, 10 लाख तक जुर्माना
Aadhaar Card After Death || मौत के बाद आधार कार्ड का क्‍या होगा? जानिए कैसे करें सरेंडर या बंद