Himachal Shimla News : सुखविंदर सिंह सुक्खू ने दस महीनें में दस साल पीछे कर दिया :  जयराम ठाकुर 

Himachal News Shimla:  नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि यह सरकार दस महीनें में प्रदेश को दस साल पीछे कर दिया। जनता की मांग पर जन प्रतिनिधि के निवेदन पर संस्थान खोले गये। मुख्यमंत्री ने बिना किसी कारण से सभी संस्थानों को बंद कर दिया। 1050 से ज़्यादा कार्यरत संस्थानों को एक दिन में डिनोटिफ़ाई कर दिया गया। आज तक प्रदेश के किसी मुख्यमंत्री ने ऐसा नहीं किया। ऐसा करके सिर्फ़ लोगों को दुःखी करने का काम किया गया।

Aggarwal-1
सुखविंदर सिंह सुक्खू ने दस महीनें में दस साल पीछे कर दिया :  जयराम ठाकुर 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि एशिया का सबसे बड़ा फार्मा हब बद्दी-नालागढ़ है, लेकिन वहां पर बीडीओ का ऑफिस नहीं था, एसडीएम का ऑफिस नहीं था। जन प्रतिनिधियों और लोगों की मांग पर हमने बीडीओ और एसडीएम का ऑफिस खोला और सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सत्ता में आते ही उसे डिनोटीफाई कर दिया। इसके बाद जब बद्दी के विधायक और सीपीएस ने कहा कि बद्दी में बीडीओ और एसडीएम के ऑफिस नहीं हैं। मुख्यमंत्री ने घोषणा कर दी कि बद्दी में बीडीओ और एसडीएम के दफ़्तर खुलेंगे। मुख्यमंत्री ने अपने पद का मज़ाक़ बनाया। जब संस्थान को खोलना था तो उसे बंद क्यों कर दिया गया।

जनता की मांग पर खोले गये संस्थान को वर्तमान सरकार ने बंद कर दिये

यह भी पढ़ें ||  गजब! हिमाचल घूमने के लिए गाड़ी नहीं मिली तो एंबुलेंस लेकर कुल्लू मनाली पहुंचे पर्यटक, पुलिस ने किया 26 हजार का जुर्माना

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार यह बताए कि जनहित के लिए खोले गये संस्थान बंद क्यों किए? क्या इसी व्यवस्था परिवर्तन की बात सरकार कर रही थी। उन्होंने कहा कि हमारे पहले की सरकार ने आचार संहिता लगते लगते संस्थानों को खोला। बिना किसी पद और बजट के प्रावधान के ही संस्थान खोल दिये। हमने उन संस्थानों को बंद नहीं किया। उसे चलाने के रास्ते निकाले। उन संस्थानों को चलाया। इस सरकार में मुख्यमंत्री ने आठ-आठ महीनें के कार्यरत संस्थाओं को बंद कर दिया। इस तरह बदले की भावना से काम करने वाली सरकार आज तक प्रदेश में नहीं आई।

यह भी पढ़ें ||  Himachal News || हिमाचल के इन कर्मचारियों को सुक्खू सरकार ने दिया बड़ा झटका, अब नहीं मिलेगी छुट्टी

अगर नहीं चाहिए संस्थान तो विधायक लिख कर दें

यह भी पढ़ें ||  बड़ी उपलिब्ध || सुप्रीम कोर्ट के ज्यूडिशियल रिसर्च एसोसिएट बना हिमाचल का वंशज आजाद

 नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि हमारे द्वारा खोले गये संस्थान अगर लोगों की मांग पर नहीं थे तो कांग्रेस के विधायक यह लिख कर दे दें कि उनके विधानसभा क्षेत्र में खोले गये संस्थान की आवश्यकता नहीं हैं। चाहे वह स्कूल हों, कॉलेज हों, पटवार सर्किल हो, जल शक्ति विभाग के डिवीज़नल या सर्किल ऑफिस हों, पीडब्ल्यूडी या बिजली विभाग के कार्यालय हों या बी.डी.ओ. और एस.डी.एम. दफ़्तर। यह सभी संस्थान ग़लत खोले गये हैं।

विधान सभा के बाहर खड़े हज़ारों युवा बता रहे है कि आपने प्रदेश से सिर्फ़ झूठ बोला है

 नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार विधान सभा के अंदर बड़ी-बड़ी बातें कर रही हैं और विधान सभा के बाहर बारिश के बीच भी हज़ारों युवा खड़े होकर अपना हक़ माँग रहे हैं। आपने कर्मचारी चयन आयोग भंग कर दिया। कहा एक महीने में रिजल्ट जारी करेंगे, तीन महीनें में जारी करेंगे। आज दस महीनें हो गये लेकिन अभी तक लगभग चार हज़ार पोस्ट के रिज़ल्ट नहीं निकाल पा रही रही हैं। युवा जिन्हें नौकरी करते आज दस महीनें हो गये होते, वे कभी सचिवालय तो कभी मुख्यमंत्री आवास के चक्कर काट रहे हैं। नौकरी देना तो दूर मुख्यमंत्री उन्हें मिलने का समय भी नहीं दे पा रहे हैं। विधानसभा के बाहर खड़ी युवाओं की भीड़ बता रही है कि आपने सत्ता के लिए प्रदेश से सिर्फ़ झूठ बोला है। इसके अलावा ज़िला परिषद के मुद्दे भी सरकार हल नहीं कर रही हैं। उन्होंने कहा कि अब बहुत हुआ, सरकार समयबद्ध तरीक़े से सभी लंबित रिजल्ट जारी करे।

दस महीनें में करुणामूलक आधार पर एक भी नौकरी नहीं दे पाई सुक्खू सरकार

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि करुणामूलक आधार पर सबसे ज़्यादा नौकरियाँ हमारी सरकार ने दी। सत्ता में आने के पहले कांग्रेस ने करुणामूलक आधार पर नौकरी देने का वादा किया था। दस महीना हो गया लेकिन एक नौकरी नहीं दे पाए। सरकार में आते ही कमेटी बना दी, तो बताओ कमेटी कि कितनी मीटिंग हुई। कमेटी ने क्या सुझाव दिये। उन्होंने कहा कि करुणामूलक आधार पर हमने हज़ारों लोगों को नौकरी दी। पहले नियम था पचास साल के बाद मृत्यु होने पर करुणामूलक आधार पर नौकरी नहीं मिलती थी लेकिन हमने नियम बदला कि अगर नौकरी में एक दिन पहले भी किसी की मृत्यु हो जाती है तो भी हम नौकरी देंगे।

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व से महिला आरक्षण का सपना साकार हुआ : जयराम ठाकुर

नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि महिला आरक्षण क़ानून से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश की महिलाओं को देश भर की महिलाओं को सम्मान दिलाया हैं। यह प्रधानमंत्री के दृढ़प्रतिज्ञ और देश से किए गए हर वादे को पूरा करने का संकल्प है। देश की नई संसद में पहला क़ानून महिलाओं के हक़ के लिए बन रहा है। इससे बेहतर और क्या हो सकता है। उन्होंने महिला आरक्षण क़ानून के लिए प्रधानमंत्री समेत संपूर्ण कैबिनेट का आभार जताया। जयराम ठाकुर ने महिला आरक्षण क़ानून के लिए समस्त देश को शुभकामनाएं दी।

सुपर स्टोरी

वंदे भारत ट्रेन दिल्ली से कटरा के बीच चलेगी, वैष्णो देवी जाने वालों के लिए खुशखबरी वंदे भारत ट्रेन दिल्ली से कटरा के बीच चलेगी, वैष्णो देवी जाने वालों के लिए खुशखबरी
नई दिल्ली:  वैष्णो देवी मंदिर की यात्रा करने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। तीर्थयात्रियों के लिए भारतीय रेलवे...
Chanakya Niti || वे कौन सी चीज़ें हैं जो बिना आग के भी शरीर को जलाती हैं, जानिए चाणक्य की नीति
Chanakya Niti || आप भी आज से ऐसे दोस्तों से आज ही बना लें दूरी, जानें क्या कहती है चाणक्य नीति
Best Hill Stations || जुलाई में घूमने के लिए ये जगह हैं बेहद खूबसूरत, देखने को मिलेंगे स्वर्ग जैसे नजारे
T20 World Cup Hat-Tricks || इन गेंदबाजों ने ली है टी20 वर्ल्ड कप में हैट्रिक, जानें किस-किस गेंदबाज ने किया ये कारनामा
Easy Tips to Stop Child Phone Addiction || बच्चे की मोबाइल यूज करने की लत छुड़ाने के लिए फॉलो करें ये आसान टिप्स
IRCTC Shimla Manali Package || IRCTC के इस पैकेज से GF संग घूमें शिमला-मनाली, जन्नत जैसे नजारों का होगा दीदार
World Population Review || PM मोदी से लेकर पुतिन, बाइडेन तक, इस नेता का वेतन सबसे ज्यादा
Success Story || आतंकी हमले के बाद सु​र्खियों में आई जम्मू की यह IPS Officer, जानिए इसके पिछे की पूरी वजह
क्या आप जानते है, अंगुली से पुरानी स्याही मिटी नहीं, तो कैसे होगा नया मतदान