बड़ी उपलब्धि || इंडो-पाक युद्ध के जांबाज की पोती बनी नर्सिंग ऑफिसर, पाया 59वां रैंक

बड़ी उपलब्धि ||  इंडो-पाक युद्ध के जांबाज की पोती बनी नर्सिंग ऑफिसर, पाया 59वां रैंक

बड़ी उपलब्धि: मंडी। हिमाचल के छोटे छोटे गांवों से बाहर निकल कर बेटियां बड़े बड़े मुकाम हासिल कर रही हैं। ऐसी ही एक बेटी मंडी जिला के सरकारघाट की शिवानी ठाकुर है। शिवानी ठाकुर का चयन एम्स में बतौर नर्सिंग ऑफिसर के पद पर हुआ है। उपमंडल सरकारघाट के समसाइ गांव पपलोग की शिवानी ठाकुर की इस उपलब्धि से पूरे परिवार सहित गांव में खुशी का माहौल है।

शिवानी ठाकुर ने हासिल किया 59वां रैंक

इस होनहार बेटी शिवानी ठाकुर ने बताया कि उसने इस परीक्षा को पास करने के लिए काफी मेहनत की है और इसी मेहनत के दम पर ही देश भर में सामान्य वर्ग से 59वां रैंक हासिल किया है। बेटी की इस कामयाबी से उसके माता पिता का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है। उन्हें लगातार बधाई संदेश आ रहे हैं।

एम्स बिलासपुर में बनी नर्सिंग ऑफिसर

Aggarwal
शिवानी ठाकुर की शिक्षा की बात करें तो उन्होंने 10वीं कक्षा डीएवी गरेहयो और 12वीं की पढ़ाई राजकीय पाठशाला सरकाघाट (Government School Sarkaghat) से पास की है। इसके साथ ही शिवानी ठाकुर ने बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) की पढ़ाई शिवालिक नर्सिंग कॉलेज शिमला से पूरी की है। शिवानी ठाकुर की पहली पोस्टिंग एम्स बिलासपुर में हुई है।

बड़ी उपलब्धि: इंडो-पाक युद्ध के जांबाज की पोती बनी नर्सिंग ऑफिसर, पाया 59वां रैंक
बड़ी उपलब्धि: इंडो-पाक युद्ध के जांबाज की पोती बनी नर्सिंग ऑफिसर, पाया 59वां रैंक

इंडो-पाक युद्ध के जांबाज की पोती है नर्सिंग ऑफिसर

बता दें कि शिवानी ठाकुर के दादा स्व रोशन लाल भारतीय सेना में कैप्टन पद से सेवानिवृत्त हुए थे। वह डोगरा रेजिमेंट 16 से 1965 की इंडो पाक लड़ाई के योद्धा भी रहे थे। इसके अलावा शिवानी के पिता कृष्ण पाल रसायन विज्ञान के प्रवक्ता के पद पर सेवाएं दे रहे हैं। जबकि माता लता ठाकुर गृहणी हैं। शिवानी ठाकुर के भाई मर्चेंच नेवी में ऑफिसर है।

यह भी पढ़ें ||  Salary Hike || राज्य कर्मचारियों को जल्द मिलेगी खुशखबरी, वेतन बढ़ोतरी पर सरकार का मंथन जारी

शिवानी ठाकुर (Shivani Thakur)  ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने माता पिता के अलावा अपने शिक्षकों को दिया है। शिवानी ठाकुर ने बताया कि उसके माता पिता ने हमेशा ही उसे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। वहीं पिता कृष्ण पाल ने बताया कि शिवानी बचपन से ही पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहती थी। वह स्कूली परीक्षाओं में भी सबसे आगे रहती थी।

यह भी पढ़ें ||  General Knowledge Questions || कौन सी भाषा है जिसे सीधा पढ़ो या उल्टा कोई फर्क नहीं पड़ता, 5 अक्षर का है नाम

Focus keyword

सुपर स्टोरी

क्या आप जानते है, अंगुली से पुरानी स्याही मिटी नहीं, तो कैसे होगा नया मतदान क्या आप जानते है, अंगुली से पुरानी स्याही मिटी नहीं, तो कैसे होगा नया मतदान
​शिमला:  चुनाव आयोग ने लोकतंत्र के महापर्व में फर्जी मतदान या फिर दो-दो बार मतदान करने जैसी घटनाओं को रोका...
HDFC बैंक ने ग्राहकों को दी 2024 में दूसरी सबसे बड़ी खुशखबरी, देखें पुरी जानकारी
Fraud call || फ्रॉड कॉल्स पर लगाम लगाने के लिए TRAI का नया फैसला, अब केवल इस नंबर से आएंगे बैंकिंग वाले कॉल
भीषण गर्मी के बीच इस राज्य के लोगों के लिए राहत भरी खबर, यहां जानें कब होगी बारिश
Salary Hike || राज्य कर्मचारियों को जल्द मिलेगी खुशखबरी, वेतन बढ़ोतरी पर सरकार का मंथन जारी
G-7 Summit || पीएम मोदी इटली से स्वदेश रवाना हुए, आउटरीच सेशन में टेक्नोलॉजी और AI पर दिया जोर
Motivational || सुनील छेत्री, भारत के फुटबॉल स्टार ने लिया संन्यास, संघर्षों से जीतकर हासिल की ये सफलता
UPI Payment users || यूपीआई पेमेंट करने पर लगेगा चार्ज सामने आई बड़ी खबर जानिए पूरी डिटेल
Motivational || देवी चित्रलेखा जी: 6 वर्ष की उम्र से शुरू किया धार्मिक कथावाचन, आज देश के लिए बन चुकी हैं प्रेरणा
IPS Anshika Verma || बला की खूबसूरत हैं यूपी कैडर की यह IPS, बिना कोचिंग क्रैक किया था UPSC