Mahindra Manulife Mutual Fund के सीईओ एंथोनी हेरदिया ने किया बड़ा ऐलान, लाखों रुपये का निवेश करने से यहां है ज्यादा फायदा

Mahindra Manulife Mutual Fund के सीईओ एंथोनी हेरदिया ने किया बड़ा ऐलान, लाखों रुपये का निवेश करने से यहां है ज्यादा फायदा

Mahindra Manulife Mutual Fund के सीईओ और एमडी एंथोनी हेरदिया को भारतीय बाजार में इनवेस्टमेंट के कई मौके दिख रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था एक ऐसे स्थान पर है जहां सभी क्षेत्रों में निवेश के अवसर हैं। मनीकंट्रोल से बातचीत में उन्होंने निवेश और स्टॉक मार्केट्स के बारे में बहुत कुछ बताया। उनका कहना था कि भारत लंबी अवधि के निवेश में बहुत कमजोर दिखता है। खरीदारी करते समय गिरावट का मौका लिया जा सकता है। अगर भारतीय अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन अच्छा रहता है, तो अगले पांच से सात साल में कंपनियों के पास बड़े मौके होंगे। निवेश के मौके हर क्षेत्र में होंगे। डायवर्सिफिकेशन पर भी उनका जोर था। साथ ही, मैनीकंट्रोल ने उनसे पूछा कि अगर किसी निवेशक को आज 10 लाख रुपये का निवेश करना है, तो उसे कहां लगाने पर सबसे ज्यादा लाभ मिलेगा?

म्यूचुअल फंड्स में निवेश से लंबी अवधि में बनेगा पैसा || Mahindra Manulife Mutual

Aggarwal-1
हेरदिया ने कहा कि आज म्यूचुअल फंड में निवेश करना सबसे आसान और लाभदायक है। आज लोग क्रिप्टो और फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस ट्रेडिंग की तुलना में म्यूचुअल फंड्स में अधिक पैसा लगा रहे हैं। यही कारण है कि मेरा लक्ष्य अधिक से अधिक लोगों को म्यूचुअल फंड्स में निवेश करने के लिए प्रेरित करना है। AMFI का लक्ष्य भी अधिक लोगों को म्यूचुअल फंड्स में निवेश करना है। आज से दस साल पहले, म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 10 लाख करोड़ रुपये था। पांच साल पहले यह २०० मिलियन रुपये था। अब यह 49 लाख करोड़ है। एक दिन में यह सौ लाख करोड़ हो जाएगा।

10 लाख रुपये के निवेश के लिए स्ट्रेटेजी || Mahindra Manulife Mutual

आज 10 रुपये का निवेश किस क्षेत्र में सबसे अधिक लाभदायक होगा? जवाब में, उन्होंने कहा कि पिछले 6 से 9 महीनों में म्यूचुअल फंड क्षेत्र में लोगों की दिलचस्पी बहुत बढ़ी है। यह एक बहुआयामी फंड है। लंबी अवधि के निवेशकों को यह श्रेणी बहुत अट्रैक्टिव नहीं लगती। दूसरा है फिक्सेड आय। इसका कारण यह है कि इंटरेस्ट रेट अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। अगले वर्ष इंटरेस्ट रेट में कमी नहीं होती तो अगले दो या तीन वर्ष में इसमें कमी होना निश्चित है। इसलिए फिक्स्ड इनकम में निवेश करना अच्छा लगता है। डॉलर की कमजोरी ने पिछले दो महीने में गोल्ड का स्थान लिया है। इसलिए सोने की चमक बढ़ी है।

डायवर्सिफिकेशन का ध्यान रखना है जरूरी || Mahindra Manulife Mutual

हेरदिया ने कहा कि मल्टी-एसेट फंड गोल्ड, स्टॉक्स और डेट में निवेश करेगा। यह जरूरत के हिसाब से इन एसेट्स में निवेश को कम करता है और फिर भी बढ़ाता रहता है। इसलिए वह हर समय आवश्यकतानुसार अपना एलोकेशन मेंटेन करता है। इसलिए, अगर आज किसी के पास 10 लाख रुपये हैं, तो उनमें से अधिकांश को मल्टी एसेट फंड में निवेश करना उचित होगा। डायवर्सिफाय करने के लिए गोल्ड में निवेश करना आवश्यक है। मल्टी-एसेट फंड्स और गोल्ड सॉवरेन बॉन्ड में निवेश करने का आपका विकल्प है। आपके पोर्टफोलियो में सोना कम से कम 5 से 10 प्रतिशत होना चाहिए। शेष पैसा स्टॉक्स में लगाया जा सकता है। आपको फ्लेक्सी कैप या मल्टी-कैप में संस्थागत निवेश जारी रखना

यह भी पढ़ें ||  Bank Holidays in July 2024 || July में 12 दिन बंद रहेंगे बैंक, कब-कब नहीं होंगे, देखें छुट्टियों की लिस्ट

सुपर स्टोरी

वंदे भारत ट्रेन दिल्ली से कटरा के बीच चलेगी, वैष्णो देवी जाने वालों के लिए खुशखबरी वंदे भारत ट्रेन दिल्ली से कटरा के बीच चलेगी, वैष्णो देवी जाने वालों के लिए खुशखबरी
नई दिल्ली:  वैष्णो देवी मंदिर की यात्रा करने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। तीर्थयात्रियों के लिए भारतीय रेलवे...
Chanakya Niti || वे कौन सी चीज़ें हैं जो बिना आग के भी शरीर को जलाती हैं, जानिए चाणक्य की नीति
Chanakya Niti || आप भी आज से ऐसे दोस्तों से आज ही बना लें दूरी, जानें क्या कहती है चाणक्य नीति
Best Hill Stations || जुलाई में घूमने के लिए ये जगह हैं बेहद खूबसूरत, देखने को मिलेंगे स्वर्ग जैसे नजारे
T20 World Cup Hat-Tricks || इन गेंदबाजों ने ली है टी20 वर्ल्ड कप में हैट्रिक, जानें किस-किस गेंदबाज ने किया ये कारनामा
Easy Tips to Stop Child Phone Addiction || बच्चे की मोबाइल यूज करने की लत छुड़ाने के लिए फॉलो करें ये आसान टिप्स
IRCTC Shimla Manali Package || IRCTC के इस पैकेज से GF संग घूमें शिमला-मनाली, जन्नत जैसे नजारों का होगा दीदार
World Population Review || PM मोदी से लेकर पुतिन, बाइडेन तक, इस नेता का वेतन सबसे ज्यादा
Success Story || आतंकी हमले के बाद सु​र्खियों में आई जम्मू की यह IPS Officer, जानिए इसके पिछे की पूरी वजह
क्या आप जानते है, अंगुली से पुरानी स्याही मिटी नहीं, तो कैसे होगा नया मतदान