banking sector
सरकारी योजना 

Green Fixed Deposit Scheme || BOB ने पेश की नई FD स्कीम, मिल रहा इतना तगड़ा ब्याज, जानें कौन कर सकता है निवेश

Green Fixed Deposit Scheme || BOB ने पेश की नई FD स्कीम, मिल रहा इतना तगड़ा ब्याज, जानें कौन कर सकता है निवेश Green Fixed Deposit Scheme || 11 मार्च को बीओबी की ओर से एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई है.बॉब अर्थ ग्रीन टर्म डिपॉजिट निवेशकों को एक आकर्षक निवेश अवसर प्रदान करता है। बॉब अर्थ ग्रीन टर्म डिपॉजिट में न्यूनतम निवेश बॉब अर्थ
Read More...
सरकारी योजना 

Fixed Deposits || SBI या BoB कहां पैसा लगाने पर मिलेगा ज्यादा फायदा? दूर कर लें कंफ्यूजन

Fixed Deposits || SBI या BoB कहां पैसा लगाने पर मिलेगा ज्यादा फायदा? दूर कर लें कंफ्यूजन Fixed Deposits ||  SBI vs Bank of Baroda कई सरकारी बैंक ग्राहकों को जमा पर अच्छा रिटर्न दे रहे हैं, लेकिन अगर आप इस बात को लेकर असमंजस में हैं कि किस सरकारी बैंक में पैसा लगाएं तो आज हम आपकी टेंशन दूर कर देंगे। वर्तमान में, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) ग्रीन फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) की सुविधा प्रदान करते हैं। निवेश करने से पहले नवीनतम ब्याज दरों की जांच करें
Read More...
सरकारी योजना 

ICICI Fix Deposit || फिक्स डिपाजिट करने वालों की हुई मौज, बैंक ने जबरदस्त ब्याज दरें बढ़ाई, अब मिलेगा बढ़िया रिटर्न

 ICICI Fix Deposit || फिक्स डिपाजिट करने वालों की हुई मौज, बैंक ने जबरदस्त ब्याज दरें बढ़ाई, अब मिलेगा बढ़िया रिटर्न मौजूदा समय में अलग-अलग तरह के निवेश और अलग-अलग तरह के बचत करने के तरीके मौजूद हैं ।चाहे पोस्ट ऑफिस के बात करें या बैंक की बात करें तो अलग-अलग तरीके आपको निवेश करने के लिए मिल जाएंगे। आज आज हम बात कर रहे हैं FD scheme में निवेश करने की। एफडी में निवेश करने वाले लोगों के लिए बहुत शानदार खबर है।
Read More...
बिज़नेस न्यूज़ 

Reserve Bank of India On KYC Updation || KYC के नाम पर हो रहा है फ्रॉड, रिजर्व बैंक ने ग्राहकों को किया अलर्ट

Reserve Bank of India On KYC Updation || KYC के नाम पर हो रहा है फ्रॉड, रिजर्व बैंक ने ग्राहकों को किया अलर्ट देश के बैंकिंग सेक्टर की देखरेख करने वाले भारतीय रिजर्व बैंक ने केवाईसी अपडेट किए जाने के नाम पर हो रहे फ्रॉड को लेकर देशवासियों को Alart किया है। आरबीआई का कहना है कि कुछ दिनों से केवाईसी अपडेट करने के नाम पर कई ग्राहकों को इसका शिकार होना पड़ा है। 
Read More...