Success Story || मॉडल से कम नहीं पुलिस की ये DSP, तीसरे प्रयास में UPSC की पास, बन गई DSP

Success Story || मॉडल से कम नहीं पुलिस की ये DSP, तीसरे प्रयास में UPSC की पास, बन गई DSP

Success Story || UPSC की तैयारी कर रहे कई विद्यार्थी IAS-IPS बनना चाहते हैं। यूपीएससी सिविल सर्विस और पीसीएस टॉपर्स की सफलता की कहानियां काफी प्रेरक हैं। आज हम सिविल सर्विस एस्पिरेंट्स के लिए यूपी पीसीएस 2017 की बैच की डीएसपी प्रियंका बाजपेई के बारे में जानकारी देने जा रहे है। ।आइए जानते हैं कि उन्होंने यूपी पीएसीएस कैसे क्रैक किया था। यूपी पुलिस की डीएसपी प्रियंका बाजपेयी खूबसूरती के मामले में किसी मॉडल से कम नहीं हैं। हालाँकि, सिर्फ उनके शारीरिक सौंदर्य को देखना पूरी तरह सही नहीं है। प्रियंका बाजपेयी लखनऊ में रहती हैं और पढ़ाई में अच्छी हैं। ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री हासिल की। जिसमें वह गोल्ड मेडल विजेता थीं। पीएचडी भी किया। प्रियंका बाजपेयी ने पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में पीजी करते हुए सिविल सर्विस एग्जाम की भी तैयारी की। 2017 में वह यूपी पीसीएस परीक्षा में 6वीं रैंक से पास हुई थीं, जिससे वह डीएसपी बन गई।

प्रियंका बाजपेयी ने पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में पीजी करते हुए सिविल सर्विस एग्जाम की भी तैयारी की। 2017 में वह यूपी पीसीएस परीक्षा में 6वीं रैंक से पास हुई थीं, जिससे वह डीएसपी बन गई। हालाँकि इससे पहले वे एक्साइज इंस्पेक्टर के पद पर चुने गए थे। 2017 में तीसरी बार यूपी पीसीएस क्रैक करने पर वे एक्साइज इंस्पेक्टर बन गईं। प्रियंका बाजपेयी ने इंस्टाग्राम पर काफी सक्रियता दिखाई दी है। इस प्लेटफॉर्म पर उनका दो हजार फॉलोवर है। यद्यपि, प्रियंका ने एक इंटरव्यू में बताया कि वह सिविल सर्विस परीक्षा के दौरान लगभग दो साल तक सोशल मीडिया से दूर रही थीं। प्रियंका भी सोचती हैं कि सोशल मीडिया का सही उपयोग करना चाहिए।

प्रियंका ने सिविल सर्विस एस्पिरेंट्स को सुझाव देते हुए कहा कि सोशल मीडिया का सही उपयोग नहीं किया जाए तो समय बर्बाद करता है। प्रियंका ने सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी कर रहे लोगों को भी एक बैकअप योजना बनाने की सलाह दी है। उन्हें खुद सेलेक्शन नहीं हुआ तो उन्होंने पीएचडी करके प्रोफेसर बनने का विचार किया। प्रियंका बाजपेयी ने इंस्टाग्राम पर काफी सक्रियता दिखाई दी है। इस प्लेटफॉर्म पर उनका 24000 फॉलोवर है। यद्यपि, प्रियंका ने एक इंटरव्यू में बताया कि वह सिविल सर्विस परीक्षा के दौरान लगभग दो साल तक सोशल मीडिया से दूर रही थीं। प्रियंका भी सोचती हैं कि सोशल मीडिया का सही उपयोग करना चाहिए। प्रियंका ने सिविल सर्विस एस्पिरेंट्स को सुझाव देते हुए कहा कि सोशल मीडिया का सही उपयोग नहीं किया जाए तो समय बर्बाद करता है। प्रियंका ने सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी कर रहे लोगों को भी एक बैकअप योजना बनाने की सलाह दी है। उन्हें खुद सेलेक्शन नहीं हुआ तो उन्होंने पीएचडी करके प्रोफेसर बनने का विचार किया।

Focus keyword

सुपर स्टोरी

Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर
Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : Srishti Deshmukh ने 2018 की यूपीएससी परीक्षा में 5वीं रैंक हासिल की थी। बारिश...
Railway Knowledge: यह है देश का अनोखा रेलवे स्टेशन, यहां 6 महीने से नहीं कटा टिकट, अजीब है खिड़की बंद होने की वजह
Budget News || मोदी 3.0 सरकार के बजट को लेकर सर्राफा व्यापारियों को काफी उम्मीदें, टैक्स में राहत और पेंशन की मांग
Meri Beti Mera Abhiman: दिल जीत ले गया 'मेरी बेटी मेरा अभिमान' का फर्स्ट लुक, हाथ में फावड़ा और बेटियों संग नजर आईं अंजना सिंह
कुमाऊं में आसमान से आफत की दस्तक: अगले चार दिन भारी बारिश का रेड अलर्ट!
आधार कार्ड की प्रक्रिया हुई लंबी: नए नियमों से अब 6 महीने करना होगा इंतजार
नए आपराधिक कानून में दर्ज प्राथमिकी के आरोपी को मिली जमानत: क्या था मामला ?
हाथरस हादसे में नया खुलासा: सेवादारों ने रोक दी मदद, भड़क उठे ग्रामीण युवा; बचाव में लगी देर से गई कई जानें
केंद्रीय कर्मचारियों की होगी बल्ले-बल्ले,महंगाई भत्ते की किश्त होने वाली है जारी 
मतदान ड्यूटी में अनुपस्थित 425 शिक्षकों को राहत: बीएसए ने वेतन बहाली के दिए आदेश, जल्द खातों में आएगा रुका हुआ पैसा