Himachal News: हिमाचल के सीएम सुक्खू ने किया बड़ा ऐलान, इन दिनों लोगों पर दर्ज हुए केस होगें वापिस,

Himachal News: हिमाचल के सीएम सुक्खू ने किया बड़ा ऐलान, इन दिनों लोगों पर दर्ज हुए केस होगें वापिस,

Himachal News: ​शिमला: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu) द्वारा हिमाचल वासियों को एक और बड़ी खुशखबरी दी हुई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu) ने बताया कि 31 जनवरी को हिमाचल प्रदेश कोरोना मुक्त हो चुका है अब हिमाचल प्रदेश में कोरोना […]

Himachal News: ​शिमला: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu) द्वारा हिमाचल वासियों को एक और बड़ी खुशखबरी दी हुई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu) ने बताया कि 31 जनवरी को हिमाचल प्रदेश कोरोना मुक्त हो चुका है अब हिमाचल प्रदेश में कोरोना के मामले शून्य पहुंच गए हैं। वहीं अब हिमाचल वासियों को प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू  द्वारा एक बड़ी राहत भरी खबर दी हुई है।

राज्य सरकार की ओर से लॉकडाउन के दौरान कोविड के प्रोटोकॉल को तोड़ने वाले लोगों के ऊपर दर्ज किए गए केसों को तुरंत वापस लेने का फैसले लिए गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना के दौरान प्रोटोकॉल की अवेलना करने पर कई लोगों के ऊपर मामला दर्ज हुआ है। इसी बीच अब प्रदेश सरकार की ओर से राहत भरी खबर दी हुई है यदि आपके ऊपर भी पर कोरोना के दौरान कैसे रजिस्टर्ड हुआ है तो अब प्रदेश सरकार की ओर से उसे कैसे को वापस लिया जाएगा

यह भी पढ़ें ||  Himachal Politics || कांग्रेस के बागी विधायकों पर एक्शन के बीच होगी कैबिनेट की बैठक, युवाओं को मिलेगी बड़ी खुशखबरी

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu)  ने आज यहां कहा कि वर्तमान राज्य सरकार कोविड-19 महामारी के दौरान विभिन्न प्रतिबंधों की अवहेलना पर दर्ज मामलों को वापस लेकर लोगों को राहत देने जा रही है। डीसी-एसपी सम्मेलन के दौरान इस संबंध में उच्चाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड का समय सबके लिए मुश्किल भरा रहा और इस महामारी को नियंत्रित करने तथा इससे बचाव के लिए आम लोगों पर कई प्रकार की पाबंदियां लगाई गई थीं। इस दौरान नियमों की अवहेलना को लेकर सैंकड़ों केस दर्ज किए गए। वर्तमान राज्य सरकार अब मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए यह केस वापस लेगी। उन्होंने कहा कि कोविड के दौरान बने केस वापस लेकर राज्य सरकार आम लोगों को राहत पहुंचाएगी।

यह भी पढ़ें ||  Rajya Sabha Election Result Breaking || हिमाचल में पलट गई बाजी, राज्यसभा चुनाव में हर्ष महाजन की बड़ी जीत

CM ने कहा कि महामारी के दौरान अभूतपूर्व हालात के कारण यह फैसला लिया गया है। उनका कहना था कि लोगों को महामारी के दौरान घरों से बाहर रहना पड़ा और नियमों और कानूनों का पालन करना पड़ा। राज्य सरकार ने कहा कि जब पूरा विश्व लॉकडाउन के दौरान संकट की स्थिति से गुजर रहा था, लोगों को अपनी और अपनों की जिंदगी बचाने और गुजारा करने के लिए दवाई और अन्य आवश्यक सामान लेने के लिए घर से निकलना पड़ा।

यह भी पढ़ें ||  Poor District of Himachal || यह है हिमाचल का सबसे गरीब जिला, नाम सुनकर आप भी हो जाओगें हैरान

“प्रतिबंधों का उल्लंघन करना ही एकमात्र विकल्प था।”
बयान में कहा गया है कि कुछ लोग दर-दर भटक रहे थे, उम्मीद करते हुए कि उनके प्रियजन महामारी से बच सकेंगे। विज्ञप्ति में कहा गया है कि उनमें से कुछ बेघर थे और सड़कों पर रात बिता रहे थे, क्योंकि उनके पास लगाए गए प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं था। हिमाचल प्रदेश में कोरोनावायरस की शुरुआत से लेकर अब तक 4 हजार 192 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में 3 लाख 12 हजार 704 लोगों को कोरोना संक्रमण हुआ।

ट्रेंडिंग

Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय
Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर...
IPS Officer Success Story || IPS पति-पत्नी का अनोखा अंदाज, काम करने का अलग अंदाज, लोग करते हैं तारीफ
Success Story || 42 साल की मां ने अपने 24 साल के बेटे के साथ पास की PCS की परीक्षा, दोनों एक साथ बने अफसर
PPI Card For Public Transport || RBI ने दी बैंको को दी ये मंजूरी, रेल, मेट्रो, बस, पार्किंग पेमेंट होगा आसान
Success Story || 1.5 लाख महीने की सरकारी नौकरी छोड़ बने IAS, जॉब के साथ की तैयारी, UPSC में पाई 8वीं रैंक
kalyanaraman Success Story || कभी कर्ज लेकर शुरू की थी सोने की दुकान, आज खड़ी कर दी 17,000 करोड़ की कल्याण ज्वेलर्स कंपनी