Chamba Pangi News || चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के सहारे चल रहे पांगी के 5 स्कूल, शिक्षकों की तैनाती करना भूली सुक्खू सरकार

The Government Opened Schools But Forgot To Appoint Teachers.

Chamba Pangi News || चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के सहारे चल रहे पांगी के 5 स्कूल, शिक्षकों की तैनाती करना भूली सुक्खू सरकार

Chamba Pangi News ||  पांगी: प्रदेश सरकार ने हर गांव और कस्बे में स्कूल तो खोले हैं, लेकिन इनमें अध्यापकों की कमी दूर नहीं की जा रही है। शिक्षा खंड पांगी के तहत 5 स्कूल ऐसे है जो मौजूदा समय डेपुटेशन के सहारे चले हुए है। स्कूलों में हालात ऐसे बने हुए हैं कि सप्ताह के दो दिन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के हवाले बच्चों का भविष्य रहता है। स्कूल में शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाना एक अध्यापक के लिए कोई चुनौती से काम नहीं है । ऐसे ही हालत इन दोनों पांगी घाटी के ग्राम पंचायत कुमार में स्थित राजकीय प्राथमिक पाठशाला में बने हुए हैं जहां पर तकरीबन 35 बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। बच्चों को पढ़ने के लिए मात्र एक अध्यापक तैनात किया गया है।

वह भी अन्य स्कूल से डेपुटेशन पर उक्त स्कूल में भेजा गया है। जब तैनात अध्यापक को जरूरी बैठक में जाना होता है तो स्कूल में विद्यार्थियों की पढ़ाई राम भरोसे हो जाती है ऐसे ही हालत इन दोनों बने हुए हैं जब सप्ताह के दो दिनों तक अध्यापक को अपने स्थाई स्कूल जाना यह अपने निजी काम को लेकर किलाड़ जाना होता है तो स्कूल चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के हवाले किया जाता है। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को ही व्यवस्था देखनी पड़ रही है । विभाग की माने तो रिक्त पद भरने को लेकर पत्राचार किया गया है लेकिन अभी तक स्कूल में स्थाई अध्यापक नहीं पहुंच पाया हुआ है। यही नहीं शिक्षा खंड पांगी के तहत 5 स्कूल ऐसे है जो मौजूदा समय में डेपुटेशन के सहारे चल हुए हैं । जिनमें राजकीय प्राथमिक पाठशाला कुमार, निचला कुठल, सुराल भटौरी, पुर्थी व परघवाल शामिल है।

इनमें भी शिक्षा विभाग की ओर से जुगाड़ के सहारे स्कूली बच्चों की पढ़ाई करवाई जा रही है। राजकीय प्राथमिक पाठशाला कुमार के एसएमसी अध्यक्ष महेश्वर सिंह ने बताया कि सप्ताह के तीन दिनों तक स्कूल चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के हवाले किया जाता है । शिक्षक अपने निजी काम हुआ सरकारी कार्यों को लेकर जब किलाड़ जाता है तो स्कूल राम भरोसे चलाया जा रहा है। वहीं अभिभावकों में यशवंत सिंह, रमेश कुमार, लेखराज, विवेक कुमार, विजय, राकेश व अनिल कुमार ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में कई बार आवासीय आयुक्त पांगी वह शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को अवगत कराया गया है

लेकिन विभाग व पांगी प्रशासन की ओर से राजकीय प्राथमिक पाठशाला कुमार में स्थाई अध्यापक की नियुक्ति आज तक नहीं की हुई है। वहीं सोमवार को जब पंचायत प्रधान ​सिरजुम व उप प्रधान मानसिंह ठाकुर ने स्कूल का निरीक्षण किया तो स्कूल में कोई भी अध्यापक मौजूद नहीं था । बच्चों को चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के हवाले किया गया था। स्कूल में तैनात चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से जब पंचायत प्रधान ने शिक्षक के बारे में पूछा तो कहा कि अपने निजी कार्य को लेकर वह मुख्यालय किलाड़ गए है। ऐसे में 35 के करीब बच्चे राजकीय प्राथमिक पाठशाला कुमार में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं जिनकी पढ़ाई बर्बाद हो रही है। अभिभावकों ने शिक्षा विभाग व पांगी प्रशासन से मांग की है कि बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए उक्त स्कूल में स्थाई अध्यापक की नियुक्ति की जाए । 

यह भी पढ़ें ||  8th Pay Commission की हो रही है मांग, लागू होते ही केंद्रीय कर्मचारियों की बढ़ेगी इनती सैलरी

इस संबंध में जानकारी देते हुए खंड प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी पांगी कर्मचंद ने बताया कि इस संबंध में ​शिक्षा विभाग के बड़े अ​धिकारियों को अगवत करवाया गया है। और जल्द पांगी घाटी के उन तमाम स्कूल में नई नियु​क्तियां प्रदेश सरकार की ओर से की जा रही है, जिसमें एक भी अध्यापक नहीं है।   

यह भी पढ़ें ||  Jio Latest Update | Jio ने सिम पोर्ट करने वाले यूजर्स के लिए लगाया तगड़ा जुगाड़, पोर्ट करने से पहले जान ले यह बातें

सुपर स्टोरी

गजब! क्रिकेट इतिहास का सबसे रोमांचक मैच, इस टीम ने सिर्फ 12 गेंद में ठोंक डाले 61 रन गजब! क्रिकेट इतिहास का सबसे रोमांचक मैच, इस टीम ने सिर्फ 12 गेंद में ठोंक डाले 61 रन
Austria Vs Romania Historic chase win |  Cricket सिर्फ आंकड़े नहीं, मनोरंजन भी देता है। इस खेल में आखिरी गेंद...
Becoming Rich Tips | आज ही अपनाएं ये 3 आदतें, बढ़ता चला जाएगा पैसा, पूरा हो सकता है अमीर बनने का सपना
IAS Success Story | इन IAS को रास नहीं आई इंजीनियरिंग, IIT से की पढ़ाई फिर क्लियर किया UPSC एग्जाम
गजब की बीमारी, किसी की बात ही नहीं समझ पाती थी महिला, दिनभर रहती थी नशे में, डॉक्टर को दिखाया, तो 'सच' जानकर उड़े होश!
Credit Card से गलती से भी ना करें ये 3 काम, वरना चैन से जीना हो जाएगा मुश्किल!
Mutual Fund | म्यूचुअल फंड के दीवाने हुए भारतीय... महीनेभर में डाले ₹34000 करोड़
Jaya kishori : श्रीकृष्ण के अलावा, ये भी हैं जया किशोरी के प्रिय भगवान!
Online Fraud : App Download करने से पहले यहां समझ ले सही तरीका, वरना वरना खाली हो जाएगा अकाउंट
Worst Combination With Curd: गर्मी के मौसम में दही के साथ भूलकर भी न खाएं ये चीजें, बिगड़ सकती है सेहत
Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर

यह भी पढ़ें