Chamba Pangi News || सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर लगाने के लिए भेजी सोलर स्ट्रीट लाइट, पांगी प्रशासन ने गाढ़ दी अपने रेजिडेंसों में

Chamba Pangi News || सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर लगाने के लिए भेजी सोलर स्ट्रीट लाइट, पांगी प्रशासन ने गाढ़ दी अपने रेजिडेंसों में

Chamba Pangi News || पांगी : जिला चंबा के जनजातीय क्षेत्र पांगी घाटी के मुख्यालय किलाड़ में साड्डा के तहत 49 के करीब सोलर स्ट्रीट लाइट आई हुई थी। जिन्हें सार्वजनिक स्थानों पर प्रशासन की ओर से लगवाना था लेकिन प्रशासन की ओर से उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर लगाने की बजाय अपने आवासों वह अपने […]

Chamba Pangi News || पांगी : जिला चंबा के जनजातीय क्षेत्र पांगी घाटी के मुख्यालय किलाड़ में साड्डा के तहत 49 के करीब सोलर स्ट्रीट लाइट आई हुई थी। जिन्हें सार्वजनिक स्थानों पर प्रशासन की ओर से लगवाना था लेकिन प्रशासन की ओर से उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर लगाने की बजाय अपने आवासों वह अपने कार्यालय के बाहर लगा दिया गया है। बड़ी हारने की बात है कि दिन के समय तो उजाले में कार्यालय खुले रहते हैं लेकिन रात के समय में स्ट्रीट लाइट लगाने की क्या आवश्यकता पांगी प्रशासन को पड़ गई। साड़ा के तहत पहली सप्लाई में सरकार की ओर से 49 के करीब स्टेट लाइटें भेजी हुई थी। जिन्हें मुख्यालय किलाड़ के दायरे में आने वाले साड्डा के एरिया में लगाया जाना था। जिससे लोगों को काफी सहूलियत मिल सकती थी। लेकिन पांगी प्रशासन की ओर से लोगों को सहूलियत देने की बजाय उन्हें अपने कार्यालय व  आवासों के बाहर लगा दिया गया है।

पांगी में प्रशासन ने सार्वजनिक स्थानों पर लगने वाली लाईटों को लगाया अपने आवासों में

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले भी पूर्व में रहे आवासीय आयुक्त पांगी द्वारा हिमऊर्जा द्वारा दिये गए सोलर पैनल को अपने आवास में लगा दिया था। जब मुद्दा मीडिया द्वारा उठाया गया तो हिमऊर्जा द्वारा आवासीय आयुक्त पांगी के आवास से सोलर पैनल उखाड़ना पड़ा । अब फिर वहीं बात हो गई है, बीते महीने प्रदेश सरकार की ओर से साड्डा के  तहत पांगी घाटी के मुख्यालय किलाड़ में 50 के करीब सोलर स्ट्रीट लाइटें भेजी हुई थी। जिन्हें गाइडलाइंस के मुताबिक सार्वजनिक स्थानों पर लगाना था लेकिन ऐसे में पांगी प्रशासन की ओर से कुछ लाईटें ही लोगों को दिखाने के बस अड्डा किलाड़ व बाजार में लगाई गई। वहीं अन्य सभी स्ट्रीट लाइटें अपने आवासों के बाहर लगा दी गई है।

यह भी पढ़ें ||  Big Breaking || हिमाचल में कांग्रेस के छह बागी और तीन निर्दलीय विधायकों की स्टेट सुरक्षा हटी

आपकी जानकारी के लिए बता दें की घाटी में साड्डा  के तहत तीन पंचायतें आती है जिनमें किलाड़, कुफा व करयास पंचायत के कुछ एक गांव शामिल है। ऐसे में लोगों का कहना है कि सरकार की ओर से लोगों को सहूलियत देने व  रात के अंधेरे में पैदल चलने के लिए सोलर स्ट्रीट लाइटें भेजी हुई थाी।  लेकिन प्रशासन की ओर से सार्वजनिक स्थानों पर लगाने की वजह अपने आवासों में लगाई हुई है।ऐसे में लोगों में काफी रोष है। उन्होंने पांगी प्रशासन से मांग की है कि प्रदेश सरकार द्वारा साड्डा  के तहत भेजी गई स्ट्रीट लाइटों की पहली सप्लाई को लोगों की सहूलियत के लिए इस्तेमाल किया जाए। इस संबंध में जानकारी देते हुए उपमंडल दंडाधिकारी पांगी रमन घरसंगी ने बताया कि साड्डा  के तहत 49 के करीब स्ट्रीट लाइट आई हुई थी जिन्हें साड्डा के दायरे में आने वाले पंचायत प्रधान व पंचायत प्रतिनिधियों के मुताबिक लगाया गया है यदि ऐसा कोई मामला है कि सरकारी आवासों  में स्टेट लाइटें लगाई गई है तो इस पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी ।

यह भी पढ़ें ||  Himachal News || इंतकाल के नाम पर 37 हजार की रिश्वत लेता हुआ रंग हाथ गिरफ्तार हुआ कानूनगो

Focus keyword

ट्रेंडिंग

Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय
Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर...
IPS Officer Success Story || IPS पति-पत्नी का अनोखा अंदाज, काम करने का अलग अंदाज, लोग करते हैं तारीफ
Success Story || 42 साल की मां ने अपने 24 साल के बेटे के साथ पास की PCS की परीक्षा, दोनों एक साथ बने अफसर
PPI Card For Public Transport || RBI ने दी बैंको को दी ये मंजूरी, रेल, मेट्रो, बस, पार्किंग पेमेंट होगा आसान
Success Story || 1.5 लाख महीने की सरकारी नौकरी छोड़ बने IAS, जॉब के साथ की तैयारी, UPSC में पाई 8वीं रैंक
kalyanaraman Success Story || कभी कर्ज लेकर शुरू की थी सोने की दुकान, आज खड़ी कर दी 17,000 करोड़ की कल्याण ज्वेलर्स कंपनी