Pradhan Mantri Ujjwala Yojana : प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में आया नया अपड़ें, अब करना होगा यह काम, ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana : प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में आया नया अपड़ें, अब करना होगा यह काम,  ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?
Pradhan Mantri Ujjwala Yojana :  2016 में Pradhan Mantri Ujjwala Yojana शुरू हुई है।योजना गरीब परिवारों को फ्री रसोई गैस देती है। ताकि बीपीएल परिवार इसका लाभ उठा सकें। कुछ सालों पहले तक देश में गावों में खाना केवल चूल्हों पर बनाया जाता था। इससे महिलाओं का स्वास्थ्य खराब हो रहा था। महिलाओं को चूल्हों […]

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana :  2016 में Pradhan Mantri Ujjwala Yojana शुरू हुई है।योजना गरीब परिवारों को फ्री रसोई गैस देती है। ताकि बीपीएल परिवार इसका लाभ उठा सकें।

कुछ सालों पहले तक देश में गावों में खाना केवल चूल्हों पर बनाया जाता था। इससे महिलाओं का स्वास्थ्य खराब हो रहा था। महिलाओं को चूल्हों और कोयले की सिगड़ियों से कई बीमारियां होती थीं। केंद्र सरकार ने इस समस्या को दूर करने के लिए Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  की शुरुआत की। 1 मई 2016 को Pradhan Mantri Ujjwala Yojana की शुरुआत की। ये योजना गरीब परिवारों को रसोई गैस मुफ्त में देती है। ताकि ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रहने वाले बीपीएल परिवार इसका लाभ उठा सकें। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस योजना को उत्तर प्रदेश के बलिया से शुरू किया था। जिसमें गरीब परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिलता है। महिलाएं हर साल एलपीजी गैस का ही उपयोग करती हैं, इसलिए उनके पास सब्सिडी पर गैस सिलेंडर हैं। इसके साथ ही कनेक्शन लेने पर 1600 रुपये की आर्थिक सहायता भी दी जाती है ताकि वे गैस कनेक्शन से जुड़ी अन्य जरुरी चीजें भी खरीद लें. गैस स्टोव खरीदने पर भी सरकार EMI प्रदान करती है। हम आज इस लेख में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए योग्यता, आवेदन कैसे करना है और इसके फायदे क्या हैं।

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana की शुरुआत 2016 को की गई. योजना गरीब परिवारों को मुफ्त रसोई गैस उपलब्ध कराती है. ताकि बीपीएल परिवार को इसका फायदा मिल सकते.
Pradhan Mantri Ujjwala Yojana की शुरुआत 2016 को की गई. योजना गरीब परिवारों को मुफ्त रसोई गैस उपलब्ध कराती है. ताकि बीपीएल परिवार को इसका फायदा मिल सकते.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का उद्देश्य महिलाओं की सुरक्षा और सुरक्षित वातावरण बनाना है। आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारों में लकड़ी और गोबर के उपले खाने के लिए इंधन हैं। कई बीमारियां इससे निकलती हैं। गैस सिलेंडर खरीदने के लिए भी गरीब परिवारों के पास पैसे नहीं होते। इसलिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का शुरू की गई। योजना का लाभ और स्वच्छ इंधन से खाना बनाने के लिए महिलाओं को प्रोत्साहित करने में भी सरकार ने कोई कसर नहीं छोड़ी। शुरुआत में सरकार ने पोस्टरों, विज्ञापनों और नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से महिलाओं को प्रेरित किया। इसके बाद एलपीजी गैस का खाना बनाने के लिए आज कई महिलाएं चूल्हे के धुएं से बच गई हैं।

यह भी पढ़ें ||  PM Surya Muft Bijli Yojana || मोदी सरकार का बड़ा कदम! अब ऐसे मिलेगी फ्री में 300 यूनिट बिजली, ऐसे करें आवेदन

योजना का नाम Pradhan Mantri Ujjwala Yojana
कब शुरू हुई 1 मई 2016
किसने शुरू की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
किसके नियंत्रण में केंद्र सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय
योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को मुफ्त में एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध करवाकर स्वच्छ इंधन प्रदान करना
लाभार्थी गरीब परिवार की 18 साल से अधिक उम्र की महिलाएं
सहायता राशि 1600 रुपये
कहां से शुरू हुई उत्तर प्रदेश के बलिया से
आधिकारिक वेबसाईट www.pmuy.gov.in
टोल फ्री नंबर 18002666696
  • केंद्र सरकार के महिलाओं को ध्यान में रखकर Pradhan Mantri Ujjwala Yojana की शुरुआत की.
  • योजना के अंतर्गत मिलने वाले 1600 रुपये सीधे महिलाओं के खाते में ट्रांसफर कर दिए जाते हैं.
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना केवल उन परिवारों के लिए है जो गरीबी रेखा से नीचे आते हैं.
  • पहले इसमें केवल पांच करोड़ परिवारों को शामिल किया गया था. लेकिन संशोधन के बाद लाभार्थियों की संख्या बढ़ा दी गई है. अब तक देश में लगभग 8 करोड़ लोग इस योजना का लाभ ले चुके हैं.
  • गरीब परिवारों को सब्सिडी पर सिलेंडर दिए जाते हैं.
  • एक साल में 14.2 किलोग्राम के तीन सिलेंडर सरकार की तरफ से मुफ्त दिए जाते हैं.
  • यदि कोई पहली बार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत गैस सिलेंडर और गैस चुल्हा खरीदता है तो उसे EMI की सुविधा भी दी जाती है.
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन होने के बाद भी कई लोग अभी चूल्हों पर खाना पकाते हैं. जिसके कारण उन्हें समय –समय पर सरकार की ओर से समझाइश भी दी जाती है.
  • पहले खाना बनाने के लिए लकड़ी या फिर कोयलों का इस्तेमाल होता था. जिसे कारण धुआं तो उठता ही है साथ ही स्वास्थ पर गहरा असर और प्राकृतिक साधनों का दोहन भी मनमाने तरीके से होता था. जंगलों से लकड़ियां काटना, कोयले से सिगड़ी जलाने जैसे कार्य होते थे. जिससे पर्यावरण प्रदूषित होता था. लेकिन प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के आने के बाद इसमें कमी आई है.
  • धुंए के कारण महिलाओं पर होने वाले दूषित प्रभाव से भी मुक्ति मिली है.
  • देश के गरीब परिवार की महिलाओं को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है.
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का पहला चरण सफल होने के बाद केंद्र की मोदी सरकार ने दूसरे चरण की भी शुरुआत कर दी.
  1. देश की सभी महिलाएं जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है वह Pradhan Mantri Ujjwala Yojana के लिए आवेदन कर सकती हैं.
  2. महिलाओं का भारत का निवासी होना जरुरी है.
  3. महिलाओं के पास बीपीएल कार्ड होना जरुरी है.
  4. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ लेने के लिए महिलाओं का स्वयं का बैंक खाता भी होना चाहिए.
  5. बैंक खाते का आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है.
  6. यदि परिवार पहले से योजना का लाभ ले रहा है तो उस परिवार की महिला को इसका लाभ नहीं मिलेगा.

अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें ||  DA Hike || केंद्रीय कर्मियों के महंगाई भत्ते में होगी चार फीसदी वृद्धि, जनवरी में बढ़ा सीपीआई-आईडब्ल्यू सूचकांक

  • चाय बागान जनजाति वाले लोग,
  • पिछड़ा वर्ग की महिलाएं,
  • सेक्शन-11 की सूची में आने वाली महिलाएं,
  • बीपीएल कार्ड धारी महिलाएं,
  • वनवासी परिवार,
  • अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की महिलाएं.

योजना का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ प्रक्रिया का पालन करना होता है.

यह भी पढ़ें ||  PM Modi Pension Yojana || मोदी सरकार की इस योजना में हर महीने मिलते हैं 5-5 हजार रुपये, देखें कैसे करें ऑनलाइन आवेदन

  1. सबसे पहले Pradhan Mantri Ujjwala Yojana की आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाएं.
  2. होम पेज पर अब आपको डाउनलोड के विकल्प का चयन करना होगा.
  3. अब आपके सामने चार फॉर्म डाउनलोड करने का विकल्प खुल जाएगा. जिसमें उज्ज्वला फॉर्म हिंदी, उज्ज्वला फॉर्म अंग्रेजी, उज्ज्वला केवाईसी फॉर्म हिंदी और चौथा उज्ज्वला केवाईसी फॉर्म अंग्रेजी शामिल है.
  4. इन चारों विकल्पों में से आप अपनी भाषा के अनुसार उज्ज्वला फॉर्म पर क्लिक करके उसे डाउनलोड करें.
  5. आप चाहे तो एलपीजी सेंटर से भी यह फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं.
  6. फॉर्म का प्रिंट आउट प्राप्त करने के बाद उसमें मांगी गई सभी जानकारियां जैसे आपका नाम, उम्र, पता भरें.
  7. फॉर्म में आवश्यक दस्तावेजों की सूची भी मांगी गई होगी. जिन्हें फॉर्म के साथ संलग्न करें.
  8. अब फॉर्म को एक बार अच्छे से पढ़कर अपने नजदीक के एलपीजी सेंटर में जमा करा दें.
  9. इसके बाद जब आपका फॉर्म और सारे दस्तावेजों का सत्यापन पूरा हो जाएगा तो आपको मुफ्त में गैस कनेक्शन मिल जाएगा.

आप बिना एलपीजी सेंटर जाए भी Pradhan Mantri Ujjwala Yojana के लिए आवेदन कर सकते हैं.

  1. सबसे पहले Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  की आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाएं.
  2. अब होम पेज पर ‘अप्लाई फॉर PMUY कनेक्शन’ के विकल्प पर क्लिक करें.
  3. आपके सामने एक डायलॉग बॉक्स खुलेगा. जिसमें कई विकल्प होंगे. इन विकल्पों में अलग-अलग गैस कंपनियों के सिलेंडर प्राप्त करने की लिंक होगी.
  4. आप किसी भी एक बॉक्स पर क्लिक करें. जिस कंपनी का गैस सिलेंडर आप प्राप्त करना चाहते हैं.
  5. इसके बाद एक और पेज खुलेगा. जिसमें आपका नाम, डिस्ट्रीब्यूटर का नाम, मोबाइल नंबर, पता, पिन कोड, जैसी जानकारियां पूछी जाएगी.
  6. सभी जानकारियां भरने के बाद मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करें.
  7. अब आपको अप्लाई के बटन पर क्लिक करना है. जिसके बाद आपका आवेदन पूरा हो जाएगा.
  8. सबसे पहले योजना की आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाएं.
  9. होम पेज पर ही फाइंड योर नियरेस्ट LPG डिस्ट्रीब्यूटर का विकल्प दिखेगा.
  10. इसमें आपके सामने तीन ऑप्शन आएंगे – इंडेन, भारत गैस और एचपी.
  11. किसी एक पर क्लिक करके अपने राज्य, जिले और ब्लॉक का चयन करें.
  12. अब लोकेट के विकल्प पर क्लिक करके प्रक्रिया पूरी करें.

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को फॉर्म भरना होगा. जिसके लिए उसके पास कुछ दस्तावेजों का होना अनिवार है.

  1. आधार कार्ड
  2. आधार कार्ड से लिंक बैंक खाता
  3. रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
  4. निवास प्रमाण पत्र
  5. बैंक खाते का विवरण
  6. बीपीएल कार्ड
  7. आयु प्रमाण पत्र
  8. वोटर आईडी
  9. जाति प्रमाण पत्र
  10. पासपोर्ट साइज फोटो

बिना केवाईसी फॉर्म भरें आपको मुफ्त में फैस कनेक्शन नहीं मिल पाएगा. केवाईसी फॉर्म भरने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करें.

  1. सबसे पहले आपको आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाना होगा.
  2. यहां होम पेज पर डाउनलोड के विकल्प पर जाएं.
  3. अब्ब आपके सामने चार फॉर्म आएँगे, जिनमें से केवाईसी वाले फॉर्म पर क्लिक कर उसे डाउनलोड करें.
  4. फॉर्म का प्रिंट लेने के बाद उसमें मांगी गई सभी जानकारियां भरें.
  5. अब अपने नजदीक के एलपीजी ऑफिस में यह फॉर्म जमा करा दें.
  6. यदि आप फॉर्म डाउनलोड नहीं कर सकते हैं. तो इस फॉर्म को आपके नजदीकी एलपीजी सेंटर से भी प्राप्त कर सकते हैं.

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  2.0, यानी पहले चरण की सफलता के बाद 10 अगस्त 2021 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दूसरे चरण की शुरुआत की। इसमें प्रवासी कामगार भी शामिल थे। यानी योजना का लाभ लेने के लिए उन्हें सिर्फ राशन कार्ड के स्थाई पते की आवश्यकता नहीं है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ हर जगह उठा सकते हैं।  फरवरी 2021 को वित्त मंत्री निर्मला सीता रमन ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 2020 तक 7.4 करोड़ मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन दिए गए हैं। आप घर बैठे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में आपका नाम लाभार्थियों की सूची में शामिल होने की जानकारी पा सकते हैं। इसके लिए कुछ नियमों का पालन करना होगा।

  1. सबसे पहले Pradhan Mantri Ujjwala Yojana विभाग की आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाएं.
  2. अब आपके सामने वेबसाईट का होम पेज खुल जाएगा.
  3. जिसमें आपको न्यू लिस्ट पर जाना है.
  4. क्लिक करते ही एक नया पेज स्क्रीन पर खुल जाएगा.
  5. जिसमें अपना राज्य, जिला, ब्लॉक जैसी जानकारियों का चयन करें.
  6. इतने के बाद आपको फॉर्म सबमिट करना है.
  7. सबमिट करने के बाद मांगे गए क्षेत्र की सूची आपके सामने खुल जाएगी. जिसमें आप नाम चेक कर सकते हैं.
  8. फीडबैक देने के लिए भी आपको आधिकारिक साईट www.pmuy.gov.in पर जाना होगा.
  9. होम पेज पर आपके सामने फीडबैक का विकल्प खुल जाएगा.
  10. जैसे ही आप उस पर क्लिक करेंगे. आपके सामने फीडबैक फॉर्म खुलेगा.
  11. फॉर्म में मांगी गई जानकारियां भरने के साथ ही आपको फीडबैक देना है और फॉर्म को सबमिट कर दें.

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के संबध में जानकारी देने और इससे जुड़ी शिकायतों के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी किया है. ये है नंबर 1906 , 18002333555 , 18002666696

यह भी पढ़ें: Pradhan Mantri Ujjwala Yojana: केंद्र की कैबिनेट बैठक में बड़े फैसले, उज्ज्वला योजना को लेकर कर दिया ये बड़ा ऐलान

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

  1. Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  की शुरुआत कब से हुई ?
    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1 मई 2016 को इस योजना की शुरुआत की थी. 10 अगस्त 2021 में योजना के दूसरे चरण की भी शुरुआत हो गई.
  2. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना किससे संबंधित है ?
    यह योजना गरीब परिवार की महिलाओं को ध्यान में रखकर बनाई है. जो एलपीजी गैस का कनेक्शन लेने में असमर्थ हैं.
  3. Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  के लिए क्या केवल ऑफलाइन ही आवेदन होता है?
    उम्मीदवार अपनी सहूलियत के अनुसार ऑनलाइन या ऑनलाइन आवेदन कर सकता है.
  4. Pradhan Mantri Ujjwala Yojana  का फॉर्म कहां से प्राप्त करें ?
    आप चाहे तो योजना की आधिकारिक साईट से फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं. या फिर अपने नजदीकी एलपीजी सेंटर से भी फॉर्म प्राप्त किया जा सकता है.

ट्रेंडिंग

Anti Hangover Medicine || मार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली, लिवर पर नहीं पड़ेगा अब बुरा असर Anti Hangover Medicine || मार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली, लिवर पर नहीं पड़ेगा अब बुरा असर
हाइलाइट्समार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली60 मिनट के भीतर पी गई 70 प्रतिशत शराब...
UPSC Exam || IAS और IPS अधिकारी बनने के लिए कौन सी डिग्री सबसे अच्छी है? जानिए यूपीएससी की तैयारी कैसे करें
Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय
IPS Officer Success Story || IPS पति-पत्नी का अनोखा अंदाज, काम करने का अलग अंदाज, लोग करते हैं तारीफ
Success Story || 42 साल की मां ने अपने 24 साल के बेटे के साथ पास की PCS की परीक्षा, दोनों एक साथ बने अफसर
PPI Card For Public Transport || RBI ने दी बैंको को दी ये मंजूरी, रेल, मेट्रो, बस, पार्किंग पेमेंट होगा आसान