New Rule of Aadhaar || Aadhaar का नया नियम! बच्चों के Baal Aadhaar में तुरंत करें बायोमैट्रिक अपडेट, ये है आसान तरीका

New Rule of Aadhaar || Aadhaar का नया नियम! बच्चों के Baal Aadhaar में तुरंत करें बायोमैट्रिक अपडेट, ये है आसान तरीका
New rule of Aadhaar || आजकल, आधार कार्ड (Aadhaar Card) हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण हो गया है। आधार कार्ड अब बच्चों और बड़ों दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। आधार के बिना आपके बच्चे सरकारी कार्यक्रमों का लाभ नहीं उठा सकते। अब बच्चे का आधार स्कूल में एडमिशन के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। […]

New rule of Aadhaar || आजकल, आधार कार्ड (Aadhaar Card) हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण हो गया है। आधार कार्ड अब बच्चों और बड़ों दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। आधार के बिना आपके बच्चे सरकारी कार्यक्रमों का लाभ नहीं उठा सकते। अब बच्चे का आधार स्कूल में एडमिशन के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। अगर आपने अपने बच्चे का आधार कार्ड अभी तक नहीं बनाया है, तो आपको भविष्य में कई मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। तुरंत अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवा लें। यहां हम आपको आधार बनवाने का सबसे आसान तरीका बताने जा रहे हैं।

यूआईडीएआई (UIDAI) के अनुसार, पांच साल से कम उम्र के बच्चों का आधार कार्ड (New Rule of Aadhaar) बनाने पर कोई शुल्क भी नहीं लिया जाता है। इसके लिए रेटिना स् कैन और बच्चों की बायोमेट्रिक जांच नहीं की जाती। इस बाल आधार कार्ड को वापस लेना होगा। जब बच्चे को पांच साल की उम्र हो जाएगी, तो उसे नया आधार कार्ड बनाना होगा। UIDAI (आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था) की डोरस् टेप सेवा का उपयोग करना भी आसान है। इसमें कर्मचारी घर पर आकर आधार सेवाएं देते हैं।

यह भी पढ़ें ||  Reserve Bank of india || नहीं चुका पा रहे लोन तो बैंक ग्राहक जान लें अपने अधिकार, RBI द्वारा जारी गाइडलाइन

संविधान के अनुसार, कर्मचारियों को इस विषय में ट्रेनिंग दी गई है और दूर-दराज के गांवों में भी यह सुविधा उपलब्ध है। भारतीय आधार कार्ड प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने सभी भारतवासी को आधार कार्ड बनाने का आदेश दिया है। इसमें उम्र की कोई सीमा नहीं है। वहीं, नवजात शिशुओं को आधार के लिए भी अस् पताल नामांकित कर रहे हैं। अस् पताल बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र के साथ-साथ आधार एक्नोलेजमेंट स्लिप भी देते हैं।

यह भी पढ़ें ||  Tata Institute New Cancer Treatment || टाटा इंस्टिट्यूट के डॉक्टरों ने खोजा कैंसर का नया इलाज, दूसरी बार नहीं होगा कैंसर

बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिए जन्म प्रमाण पत्र पर्याप्त है। यदि आपके पास बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र भी नहीं है, तो अस् पताल से जारी किया गया डिस् चार्ज सर्टिफिकेट या स्कूल का आईडी कार्ड पर्याप्त है। इसके अतिरिक्त, माता या पिता में से किसी एक का आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस जैसे वैलिड आईडी प्रूफ होना चाहिए। बाल आधार कार्ड के लिए बच्चे की फोटो और माता-पिता में से किसी एक का आधार कार्ड आवश्यक है। यही कारण है कि अगर माता-पिता का कोई आधार नहीं है, तो पहले उसे बनाना होगा। बाल आधार कार्ड पांच साल की उम्र तक रहेगा. पांच साल की उम्र के बाद बच्चे का दूसरा आधार कार्ड बनाया जाएगा। इसके लिए उंगलियों, आईरिस स् कैन और फोटो का बायोमैट्रिक डेटा देना होगा। वह 15 साल का होने पर फिर से आधार नामाकंन की प्रक्रिया दोहराई जाएगी।

यह भी पढ़ें ||  EPFO NEWS || EPFO सब्सक्राइबर्स को लगा झटका, आज से बंद हो जाएगी ये खास सर्विस, जाने पूरी डिटेल

Focus keyword

ट्रेंडिंग

Anti Hangover Medicine || मार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली, लिवर पर नहीं पड़ेगा अब बुरा असर Anti Hangover Medicine || मार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली, लिवर पर नहीं पड़ेगा अब बुरा असर
हाइलाइट्समार्केट में आ गई है शराबियों के लिए एंटी हैंगओवर Myrkl गोली60 मिनट के भीतर पी गई 70 प्रतिशत शराब...
UPSC Exam || IAS और IPS अधिकारी बनने के लिए कौन सी डिग्री सबसे अच्छी है? जानिए यूपीएससी की तैयारी कैसे करें
Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय
IPS Officer Success Story || IPS पति-पत्नी का अनोखा अंदाज, काम करने का अलग अंदाज, लोग करते हैं तारीफ
Success Story || 42 साल की मां ने अपने 24 साल के बेटे के साथ पास की PCS की परीक्षा, दोनों एक साथ बने अफसर
PPI Card For Public Transport || RBI ने दी बैंको को दी ये मंजूरी, रेल, मेट्रो, बस, पार्किंग पेमेंट होगा आसान