New Pay Commission || सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, 8वें वेतन आयोग के गठन पर बड़ा अपडेट

New Pay Commission ||  सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, 8वें वेतन आयोग के गठन पर बड़ा अपडेट

New Pay Commission ||  नई दिल्ली : केंद्र में नई सरकार बनने के साथ ही कर्मचारियों और पेंशनभोगियों की उम्मीदों पर पानी फिर गया है. 7वें वेतन आयोग (7th Pay Commission) को दस साल पूरे हो रहे हैं और अब 8वें वेतन आयोग (8th Pay Commission) को लागू करने की मांग जोर पकड़ रही है. मुद्रास्फीति और सरकारी राजस्व में भी वृद्धि के साथ एक करोड़ से अधिक केंद्र सरकार के कर्मचारी अब आठवें वेतन आयोग के कार्यान्वयन की मांग कर रहे हैं और कर्मचारियों के वेतन, भत्ते और पेंशन की समीक्षा की सिफारिश कर रहे हैं।

राष्ट्रीय परिषद सचिव शिव गोपाल मिश्रा ने सरकार से आठवें वेतन आयोग को जल्द से जल्द लागू करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकारी राजस्व और मुद्रास्फीति में कोरोना काल के बाद से उल्लेखनीय वृद्धि हुई है, इसलिए महंगाई भत्ते की कमी और आवश्यक वस्तुओं की बढ़ती कीमतों के बीच अंतर बढ़ रहा है। उन्हें याद दिलाया गया कि सरकारी कर्मचारियों के लिए 2016 में वेतन संशोधन किया गया था, हालांकि मुद्रास्फीति ने तब से कर्मचारियों और पेंशनभोगियों की क्रय क्षमता को काफी कम कर दिया है।

8वां वेतन आयोग कब से प्रभावी होगा?

मोदी सरकार के दिल्ली की गद्दी पर एक बार फिर बैठने के बाद अब सबकी निगाहें आठवें वेतन आयोग पर हैं। नया वेतन आयोग 1 जनवरी 2026 तक लागू होने की उम्मीद है, सातवें वेतन आयोग के लागू होने के दस साल बाद। केंद्र सरकार ने अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है, लेकिन लोकसभा चुनावों के बाद तीसरी बार सत्ता में आने वाली मोदी सरकार के साथ एक करोड़ से अधिक कर्मचारी आठवें वेतन आयोग में दिलचस्पी व्यक्त कर रहे हैं।

सरकारी कर्मचारियों के वेतन के लिए नवीनतम प्रस्ताव

इकोनॉमिक टाइम्स ने बताया कि शिव गोपाल मिश्रा ने कैबिनेट सचिव को लिखे पत्र में इन आर्थिक वास्तविकताओं को हल करने के लिए एक नए वेतन आयोग की जरूरत पर जोर दिया। उनका कहना था कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों के वेतन में मुद्रास्फीति के अनुरूप वृद्धि नहीं हुई है, हालांकि 2015 के बाद से सरकारी राजस्व दोगुना हो गया है और कर संग्रह भी काफी बढ़ा है।

यह भी पढ़ें ||  केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर! सरकार ने GPF समेत कई भविष्य निधि योजनाओं पर ब्याज दरों में किया बड़ा बदलाव

पिछले एक दशक में केंद्र सरकार के कर्मचारियों की संख्या में लगभग दस लाख की कमी आई है, जिससे अन्य कर्मचारियों पर काम का दबाव बढ़ गया है। अपने किरदार में मिश्रा ने वेतन मैट्रिक्स की समय-समय पर समीक्षा की भी सिफारिश की और कहा कि दस साल तक इंतजार न करें. इसके साथ ही, सिफारिश में अकरोयड फॉर्मूला को एक मानक फॉर्मूला के रूप में प्रस्तावित किया गया जो आवश्यक वस्तुओं की बदलती कीमतों को ध्यान में रखता है। यह वेतन समायोजन के लिए अधिक गतिशील दृष्टिकोण प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें ||  8th Pay Commission की हो रही है मांग, लागू होते ही केंद्रीय कर्मचारियों की बढ़ेगी इनती सैलरी

Focus keyword

सुपर स्टोरी

Becoming Rich Tips | आज ही अपनाएं ये 3 आदतें, बढ़ता चला जाएगा पैसा, पूरा हो सकता है अमीर बनने का सपना Becoming Rich Tips | आज ही अपनाएं ये 3 आदतें, बढ़ता चला जाएगा पैसा, पूरा हो सकता है अमीर बनने का सपना
Becoming Rich Tips |  Acharya Chanakya ने नीति शास्त्र में दान देने को सबसे उत्तम कार्य बताया है. जरूरत की...
IAS Success Story | इन IAS को रास नहीं आई इंजीनियरिंग, IIT से की पढ़ाई फिर क्लियर किया UPSC एग्जाम
गजब की बीमारी, किसी की बात ही नहीं समझ पाती थी महिला, दिनभर रहती थी नशे में, डॉक्टर को दिखाया, तो 'सच' जानकर उड़े होश!
Credit Card से गलती से भी ना करें ये 3 काम, वरना चैन से जीना हो जाएगा मुश्किल!
Mutual Fund | म्यूचुअल फंड के दीवाने हुए भारतीय... महीनेभर में डाले ₹34000 करोड़
Jaya kishori : श्रीकृष्ण के अलावा, ये भी हैं जया किशोरी के प्रिय भगवान!
Online Fraud : App Download करने से पहले यहां समझ ले सही तरीका, वरना वरना खाली हो जाएगा अकाउंट
Worst Combination With Curd: गर्मी के मौसम में दही के साथ भूलकर भी न खाएं ये चीजें, बिगड़ सकती है सेहत
Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर
Railway Knowledge: यह है देश का अनोखा रेलवे स्टेशन, यहां 6 महीने से नहीं कटा टिकट, अजीब है खिड़की बंद होने की वजह

यह भी पढ़ें