Himachal Pen-down Strike || हिमाचल में अब इस कर्मचारियों ने शुरू की पेन डाउन स्ट्राइक, 19 फरवरी से काम बंद करने की चेतावनी

Himachal Pen-down Strike ||
Himachal Pen-down Strike || हिमाचल में अब इस कर्मचारियों ने शुरू की पेन डाउन स्ट्राइक, 19 फरवरी से काम बंद करने की चेतावनी

​शिमला: Himachal Pen-down Strike ||  शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज (Indira Gandhi Medical College) और अस्पताल में रोगी कल्याण समिति (Patient Welfare Committee) के कर्मचारी आज से पेन डाउन स्ट्राइक (Pen-down) पर चले गए हैं। 18 फरवरी तक यह पेन डाउन स्ट्राइक (Pen-down) जारी रहेगी। उस समय, रोज़ाना आरकेएस कर्मचारी सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक काम नहीं करेंगे और अपना विरोध प्रकट करेंगे। 19 फरवरी से कर्मचारी पूरी तरह से काम बंद कर देंगे। इस दौरान, इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को सिर्फ एक ही काउंटर पर सेवा दी जाएगी। आरकेएस कर्मचारियों की पेन डाउन स्ट्राइक (Pen-down) से अस्पताल की स्वास्थ्य सुविधाएं खराब हो सकती हैं। मरीज इसका खामियाज़ा भुगतेंगे।

19 फरवरी से कार्य ठप होने की सूचना || Himachal Pen-down Strike

अस्पताल में काम कर रहे आरकेएस कर्मचारियों (rks employees) को विरोधस्वरूप काले बिल्ले लगाकर 15 दिन पूरे हो गए हैं। 30 जनवरी को आरकेएस कर्मचारियों ने इस बारे में भी अस्पताल प्रशासन (hospital administration) को नोटिस भेजा था। इसके बाद 15 दिन पूरे हो गए हैं। आरकेएस कर्मचारियों ने कहा कि उन्हें काम करते हुए 10 साल हो गए हैं। अब वह रेगुलर पे स्केल चाहते हैं। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू, (Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu,) स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. धनी राम शांडिल, (Health and Family Welfare Minister Dr. Dhani Ram Shandil) लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह (Public Works Minister Vikramaditya Singh) और शिमला शहर के विधायक हरीश जनारथा ने भी उनकी मांगों को सुनाया। अभी तक उनके पास सिर्फ आश्वासन है। इसलिए वे अब पेन डाउन स्ट्राइक करेंगे। 19 फरवरी से काम पूरी तरह से बंद कर देंगे अगर फिर भी उनकी मांगों को नहीं माना जाता है।

IGMC में दो बार पे स्केल प्राप्त || Himachal Pen-down Strike

रोगी कल्याण समिति कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अरविंद पाल (Rogi Kalyan Samiti Employees Union President Arvind Pal) ने बताया कि आईजीएमसी अस्पताल में कर्मचारियों को दो बार रेगुलर पे स्केल दिया गया है। 2016 और 2019 में कर्मचारियों को पे स्केल दिया गया था। कर्मचारियों ने बताया कि वे अपनी सेवाएं देते हुए काफी समय हो गया है। उन्हें 2022 के अप्रैल से रेगुलर पे स्केल मिलना चाहिए था, लेकिन फरवरी 2024 के अंत तक उन्हें पे स्केल नहीं मिला। उनका कहना था कि वे अपना काम बंद नहीं करना चाहते, लेकिन मजबूरी में ऐसा करना पड़ा।

सुपर स्टोरी

Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम
Bank Off Baroda Good News ||  सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (BCB) ने चौथी तिमाही (Q4FY24) के नतीजों को...
Driving Licence New Rules || 1 जून से लागू होंगे नए नियम, हो जाएं सावधान वरना देना होगा 25 हजार का जुर्माना
Credit Card का करते हैं इस्तेमाल तो भूलकर भी न करें ये गलती, क्रेडिट स्कोर हो जाएगा खराब
PHD के छात्र ने बनाया जबरदस्त रिकॉर्ड, अपने नाम किये 1000 से ज्यादा सर्टिफिकेट, यहां दर्ज हुआ नाम
Premanand ji Maharaj || प्रेमानंद महाराज ने बताया, भूलकर ना रखें ये दो चीज बकाया,
ATM Scam : कभी भी गलती से ATM मशीन के पास न करें यह काम, एक गलती से हो जाएंगे कंगाल, भयंकर स्कैम चल रहा
Aadhaar Related Crimes : जेल पहुंचा सकती है आधार से जुड़ी ये गलती, 10 लाख तक जुर्माना
Aadhaar Card After Death || मौत के बाद आधार कार्ड का क्‍या होगा? जानिए कैसे करें सरेंडर या बंद
Google Pay || 4 जून के बाद काम नहीं करेगा Google Pay, ऐप इस्तेमाल करने वाले जान लें जरूरी बात
बम की धमकी देने पर क्या मिलती है सजा? कभी गलती से भी ना दें किसी के साथ ये मजाक