Neem leaf benefits || ये हरी पत्ती आपको कई रोगों में दिलाएंगी राहत, जानिए उनके नाम

 शरीर के मेटाबॉलिज्म को बनाए रखने और मोटापे को कम करने के भी आती है काम 
Neem leaf benefits || ये हरी पत्ती आपको कई रोगों में दिलाएंगी राहत, जानिए उनके नाम

Neem leaf benefits ||   यूं तो आपके किचन में बहुत सारी  घरेलू औषधि (home medicine) उपलब्ध होती है। जिन का इस्तेमाल करके आप बहुत सारे फायदे ले सकते हैं और कई प्रकार के रोगों  से मुक्त रह सकते हैं ।लेकिन आज हम आपको एक खास पत्ती के बारे में बता रहे हैं यह पत्ती कई रोगों के लिए रामबाण इलाज (treatment)की तरह काम करती है और इसको खाने के बहुत ज्यादा फायदे और लाभ है।

 इस पत्ती का नाम है नीम।

 नीम की पत्ती का इस्तेमाल सदियों से कई तरह की बीमारियों के उपचार में किया जाता है. नीम के पत्ते में प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन सी, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, फैट, अमीनो एसिड, नाइट्रोजन, फॉस्फोरस, पोटेशियम, टैनिक एसिड जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। आप इसकी पत्तियों को चबाकर या फिर उबालकर सेवन कर उपयोग सकते हैं। आप जैसे भी इसका सेवन करेंगे आपको लाभ मिलने लगेंगे।  अगर आप खाना तुरंत बचाना चाहते हैं तो इसके लिए नीम की पत्ती बहुत कारगर साबित होती है।

नीम पत्ती के लाभ

आपको नीम की कुछ सूखी पत्तियां (dry  leafs) लेना है, फिर उसे एक मिक्सर ग्राइंडर में पीसना है। इसके बाद अलग एक छोटे बर्तन में निकाल लेना है. अब आपको कुछ सूखे प्याज के छिलके, 5-6 तेजपत्ते, 2 से 4 लौंग और 01 कपूर एक साथ मिक्सर में पीस लेना है। अब आपको इन्हें नीम वाले मिश्रण (mixture) में मिलाकर एक डिब्बे में रख देना है। अब जब दिया जलाएं तो इस पाउडर को दीए में डालकर सरसों तेल डालें फिर बत्ती डालकर जला दीजिए. 

खांसी करे ठीक

 अगर आपको लंबे समय से खांसी जुखाम है तो नीम की पत्तियां इसमें भी रामबाण इलाज करती है। नीम की पत्ती को चबाने से खांसी और डाइजेशन (digestion) में सुधार होता है। आपको बता दें कि नीम की पत्ती को उबालकर सिर धोने से रूसी से बहुत राहत मिलती है। वहीं, नीम की पत्ती मतली और उलटी से राहत दिलाती है,और पेट भी साफ रहता है।

यूटीआई इंफेक्शन से मिले राहत

 नीम की पत्तियां जबरदस्त औषधि के रूप में काम करती है यह पत्तियां यूटीआई इंफेक्शन (uti infection) और पेट के कीड़ों जड़ से खत्म करने में मदद करता है। यह  किसी भी प्रकार की सूजन को भी कम करने का काम करती है। यह एक नेचुरल डिटॉक्सिफायर है, पित्त को बैलेंस करता है। . 

प्रतिरोधक क्षमता होती है बूस्ट

नीम के पत्तों का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इससे आपके शरीर को बीमारियों से लड़ने की क्षमता मिलती है। इसके सेवन से  मोटापे को काम किया जा सकता है और वजन (weight)भी घटाया जा सकता है। योग-प्राणायाम करने के अलावा नीम के जूस को भी जगह दें फिर देखिए  की किस तरह से इसका असर आपके शरीर पर होता है।

बॉडी डिटॉक्स करे

 नीम की पत्तियों का अगर सही से इस्तेमाल (use)करें तो यह पूरे शरीर को साफ करने का काम करती है यानी डिटॉक्सिफाई करती है।
नीम बॉडी डिटॉक्स करने का भी काम करती है. इसके अलावा नीम सूजन कम करने में भी सहायक होती है। इसके सेवन से भरपूर फाइबर (fiber) मिलता है. नियमित रूप से इसका जूस पीने से पाचन क्रिया अच्छी होती है।

मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है

 शरीर के मेटाबॉलिज्म (metabolism) को अगर बढ़िया रखना है तो नीम की पत्तियों का इस्तेमाल करके देखिए, इससे मेटाबॉलिज्म भी मजबूत होता है। नीम में कई तरह के एंटी ऑक्सीडेंट (antioxidant)पाए जाते हैं जिससे कैलोरी बर्न होती हैं और वजन भी घटता है। तो देखिए आप एक नीम की पत्तियों का इस्तेमाल करके कितने प्रकार के रोगों से अपने आप को बचा सकते हैं और अपने शरीर को स्वस्थ और तंदुरुस्त रख सकते हैं।