बम की धमकी देने पर क्या मिलती है सजा? कभी गलती से भी ना दें किसी के साथ ये मजाक

बम की धमकी देने पर क्या मिलती है सजा? कभी गलती से भी ना दें किसी के साथ ये मजाक

नई दिल्ली:  आज अधिकांश लोगों के पास स्मार्टफोन और इंटरनेट (Smartphone and Internet) है। लेकिन कुछ लोग इसका गलत भी इस्तेमाल करते हैं। आपने अक्सर खबरों में सुना होगा कि स्कूल और एयरपोर्ट (airport) सहित कई स्थानों पर बम धमाका हो सकता है। लेकिन सुरक्षाबलों ने इन स्थानों की जांच की तो कुछ नहीं मिला। इसका अर्थ है कि ये संदेश बिल्कुल फर्जी थे। लेकिन अब सवाल ये है कि ऐसे फर्जी संदेश (fake threats) भेजकर समाज को बदनाम करने वालों पर क्या कार्रवाई हो सकती है? आज हम आपको बताएंगे कि इसकी सजा क्या है। 

UAPA के तहत भी काम 

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)  के एक अन्य न्यायाधीश ने कहा कि बम धमकी देने पर दस साल की सजा हो सकती है। लेकिन जानबूझकर ऐसा करने वालों के खिलाफ कई अन्य कार्रवाई भी हो सकती हैं। उस व्यक्ति के खिलाफ जांच एजेंसियां अनलॉफुल एक्टिविटीज प्रिवेंशन एक्ट (Activities Prevention Act) भी लागू कर सकती हैं।

बम धमकी मजाक नहीं है

बम धमकी देना कोई मजाक नहीं है। क्योंकि ऐसी घटना से वातावरण बिगड़ जाता है। कई बार अफरातफरी का माहौल बन जाता है, जो कई अन्य घटनाओं को जन्म दे सकता है। इस तरह की घटनाएं गंभीर अपराध की श्रेणी में आती हैं। अदालत ही अंतिम निर्णय लेती है कि उस अपराधी को क्या सजा मिलेगी।

FIR कौनसी धाराओं में दर्ज होगी?

इन मामलों में भारतीय दंड संहिता (Indian Penal Code) की धारा 505(2) (जनता को डराने), धारा 507 (गुमनाम संचार से आपराधिक धमकी देने) और धारा 120 (बी) का मुकदमा लगाया जाता है। इन धाराओं के अधीन दोषी पाए जाने पर कठोर सजा की व्यवस्था है। वहीं आईपीसी की धारा 505(2) गैर जमानती संज्ञेय अपराध मानती है। इसमें तीन से पांच साल की सजा और जुर्माना शामिल है। गुमनाम संचार माध्यम से नाम छिपाकर आपराधिक धमकी देने पर धारा 507 के तहत दो साल की सजा हो सकती है। यह सजा किसी और धारा में दी गई सजा के अलावा है।

यह भी पढ़ें ||  Motivational || सुनील छेत्री, भारत के फुटबॉल स्टार ने लिया संन्यास, संघर्षों से जीतकर हासिल की ये सफलता

Focus keyword

सुपर स्टोरी

G-7 Summit || पीएम मोदी इटली से स्वदेश रवाना हुए, आउटरीच सेशन में टेक्नोलॉजी और AI पर दिया जोर G-7 Summit || पीएम मोदी इटली से स्वदेश रवाना हुए, आउटरीच सेशन में टेक्नोलॉजी और AI पर दिया जोर
प्रौद्योगिकी और एआई पर जोर इटली के अपुलिया में जी7 शिखर सम्मेलन के आउटरीच सत्र को संबोधित करते हुए पीएम...
Motivational || सुनील छेत्री, भारत के फुटबॉल स्टार ने लिया संन्यास, संघर्षों से जीतकर हासिल की ये सफलता
UPI Payment users || यूपीआई पेमेंट करने पर लगेगा चार्ज सामने आई बड़ी खबर जानिए पूरी डिटेल
Motivational || देवी चित्रलेखा जी: 6 वर्ष की उम्र से शुरू किया धार्मिक कथावाचन, आज देश के लिए बन चुकी हैं प्रेरणा
IPS Anshika Verma || बला की खूबसूरत हैं यूपी कैडर की यह IPS, बिना कोचिंग क्रैक किया था UPSC
Devi Chitralekha || देवी चित्रलेखा की 20 साल की उम्र में हुई थी शादी, जानें कथावाचिका के पति क्या करते
HDFC Bank Net Banking Update || HDFC Bank के ग्राहकों के लिए नया अपड़ेट, इतने वक्त तक Net Banking से लेकर UPI तक कुछ नहीं चलेगा
Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग
Success Story || दर्जी की बिटिया ने छू लिया 'आसमान', गरीबी से उठकर बनी जज
Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम