Pankaj Udhas Death || पंकज उधास के वो 10 मशहूर गाने, जो आज भी करते हैं लोगों के दिलों पर राज

Pankaj Udhas Death || पंकज उधास के वो 10 मशहूर गाने, जो आज भी करते हैं लोगों के दिलों पर राज

दिल्ली: दिग्गज ग़ज़ल गायक  पंकज उधास का निधन हो गया है। 72 वर्ष की उम्र में पद्मश्री गायक पंकज उधास ने अंतिम सांस ली। पूरी सिंगिंग इंडस्ट्री शोक में है। भारतीय गजल गायक पंकज उधास थे। उन्होंने 17 मई 1951 को गुजरात के जेतपुर में जन्म लिया था। 1980 में उन्होंने अपना पहला ग़ज़ल एल्बम 'आहट' रिकॉर्ड किया, जिसके बाद से उन्होंने ४० से अधिक एल्बम निकाले हैं। उधास की मधुर आवाज़ और गज़ल गायन उनकी पहचान है। गायन का भाव। 2006 में उन्हें भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री प्रदान किया गया। पंकज उधास ने अपने जीवन में कई सुंदर गानों से लोगों का दिल जीता है, 

1. चिट्ठी आई है (1986): यह गाना फिल्म "नाम" का हिस्सा था और इसे लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका से पत्र प्राप्त करता है और उसके प्रति अपने प्यार का इजहार करता है.

यह भी पढ़ें ||  The Family Star || रिलीज के 21 दिन बाद ही OTT पर आ रही विजय देवरकोंडा की यह फिल्म

2. कोई नज़र ना लगे (1980): यह गाना एल्बम "आहट" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका को बुरी नज़र से बचाने के लिए भगवान से प्रार्थना करता है.

3. मेरे ख्यालों में जो आए (1981): यह गाना एल्बम "मुकर्रार" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका के बारे में सोचता है और उसके प्रति अपने प्यार का इजहार करता है.

4. वो लडकी जब घर से निकली (1986): यह गाना फिल्म "सैलामी" का हिस्सा था और इसे लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका को घर से निकलते हुए देखता है और उसके प्रति अपने प्यार का इजहार करता है.

5. ग़ुलामी (1984): यह गाना एल्बम "तारन्नम" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जो प्यार में पड़ने के बाद अपनी स्वतंत्रता खो देता है.

6. दिल जब से टूटा है (1986): यह गाना फिल्म "सैलामी" का हिस्सा था और इसे लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने संगीतबद्ध किया था. यह एक प्रेमी के बारे में है जिसका दिल टूट गया है और वह अपने दर्द का इजहार करता है.

7. मैं तेरे इश्क़ में (1981): यह गाना एल्बम "मुकर्रार" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था। यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका के प्रति अपने प्यार का इजहार करता है।

8. तेरी यादें (1983): यह गाना एल्बम "मेहफिल" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था। यह एक प्रेमी के बारे में है जो अपनी प्रेमिका की यादों में खोया हुआ है।

9. हमने खामोशी से (1986): यह गाना फिल्म "नाम" का हिस्सा था और इसे लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने संगीतबद्ध किया था। यह दो प्रेमियों के बारे में है जो एक-दूसरे से प्यार करते हैं लेकिन अपनी भावनाओं को व्यक्त करने में असमर्थ हैं।

10. ये जो मोहब्बत है (1981): यह गाना एल्बम "मुकर्रार" का हिस्सा था और इसे पंकज उदास ने खुद संगीतबद्ध किया था। यह प्यार की प्रकृति के बारे में एक गीत है।

Focus keyword

ENG \ Personal Finance