How to grow your Business || बिजनेस एक्सपेंशन की ये खास स्ट्रेटेजी देगी आपके बिजनेस को रफ्तार

जिस तरह किसी भी बिजनेस को स्टार्ट करना एक बड़ी चुनौती होती है उसी तरह उस बनाए गए बिजनेस को और आगे बढ़ाना उससे भी बड़ी चुनौती होती है
How to grow your Business || बिजनेस एक्सपेंशन की ये खास स्ट्रेटेजी देगी आपके बिजनेस को रफ्तार
How to grow your Business || Image credits ।। Cenva

How to grow your Business ||  जब आप कोई उत्पाद या सेवा बनाते हैं, तो आपका पहला उत्पाद कभी भी आपका अंतिम उत्पाद नहीं होता है। पहले आप समस्या को समझकर उत्पाद बनाते हैं, फिर जरूरत के हिसाब से उन उत्पादों में बदलाव और सुधार किए जाते हैं। कई बदलावों के बाद, आपका उत्पाद अच्छा प्रदर्शन कर सकता है और लाभ कमाना शुरू कर सकता है

How to grow your Business || जिस तरह किसी भी बिजनेस को शुरू करना एक बड़ी चुनौती (challenge) होती है, उसी तरह बनाए गए बिजनेस को आगे बढ़ाना उससे भी बड़ी चुनौती होती है। आज हम ऐसी ही कुछ खास बिजनेस विस्तार (detailed ) रणनीतियों के बारे में बात करेंगे। इन रणनीतियों को अपनाकर आप अपने बिजनेस को दिन दूना रात चौगुना बढ़ा (increase) सकते हैं और अपने बिजनेस को तेजी से आगे बढ़ा सकते हैं।

जे-कर्व के साथ Business कैसे बढ़ाएं

जब आप कोई उत्पाद या सेवा बनाते हैं, तो आपका पहला उत्पाद (product) कभी भी आपका अंतिम उत्पाद नहीं होता है। पहले आप समस्या को समझकर उत्पाद बनाते हैं, फिर जरूरत के हिसाब से उन उत्पादों में बदलाव और सुधार किए जाते हैं। कई बदलावों के बाद, आपका उत्पाद अच्छा प्रदर्शन कर सकता है और लाभ कमाना शुरू कर सकता है। उदाहरण के लिए, इंस्टाग्राम (instagram) आज पूरी दुनिया में एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म बन गया है, लेकिन पहले यह बरबन हुआ करता था। रिफॉर्म के बाद आज यह सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (media platform) है।

जब आप अपने काम को करने का सही तरीका समझ जाते हैं तो अब आपको वह तरीका दूसरे लोगों को भी सिखाना होगा ताकि आपका काम बेहतर तरीके से चल सके। इसके लिए जॉब शैडोइंग की रणनीति (strategy ) का उपयोग किया जाता है। इसमें आप ऐसे लोगों की एक फ़ौज तैयार (ready ) करते हैं जो आपके काम में माहिर हों, यानी जो लोग जिस काम में माहिर हों, वही काम कुछ दूसरे लोगों को सिखाते हैं। जब वह लोग वह काम सीख लें तो वही काम कुछ अन्य लोगों को सिखाकर तैयारी करें।

भौगोलिक विस्तार

Business के विस्तार के लिए भौगोलिक विस्तार भी बहुत महत्वपूर्ण (important ) है।इसलिए जब भी आप किसी नई जगह पर अपने बिजनेस का विस्तार करें तो ऐसी जगह चुनें जहां आपको अपने उत्पाद से संबंधित सभी उपकरण आसानी से मिल सकें। किसी नई जगह पर बिजनेस शुरू करते समय आप अपने साथ कुछ और लोगों को भी जोड़ सकते हैं ताकि उस जगह पर आपका जोखिम कम हो जाए। वहीं, अधिग्रहण में एक कंपनी दूसरी कंपनी (company) को खरीदकर अपना नाम बनाती है और फिर उसके बिजनेस के जरिए उसके बिजनेस को प्रमोट किया जाता है। किसी भी ऐसी जगह पर जाने वाले पहले व्यक्ति न बनें जहां आपको चीजें और लोगों को इकट्ठा करने में कठिनाई हो। अपने उत्पाद के लिए हमेशा सही स्थान चुनें।

यह भी पढ़ें ||  Aadhaar Offences || आधार कार्ड से अगर किए ये 5 गलत काम, देना होगा 1 लाख का जुर्माना और होगी जेल

विलय और अधिग्रहण

आपके Business को आगे बढ़ाने के लिए विलय और अधिग्रहण की रणनीति भी अपनाई जा सकती है।विलय तब होता है जब दो कंपनियां विलय करती हैं और एक साथ काम करती हैं। अगर आपके उत्पाद या सेवा (service) की मांग अच्छी है और लोग उसे पसंद करते हैं तो आप बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए फ्रेंचाइजी मॉडल अपना सकते हैं। इसमें आप एक फ्रेंचाइज़र बनते हैं और अपने Business की फ्रेंचाइजी दूसरों को देते हैं, जिनके साथ आपको अपनी कंपनी के मालिकाना उपकरण, तकनीक, ट्रेडमार्क, सॉफ्टवेयर और व्यावसायिक उपकरण भी साझा करने होते हैं।इससे फ्रेंचाइज़र को रॉयल्टी (royalti) और मुनाफा मिलता है, जबकि फ्रेंचाइज़ी को एक विशेष Business मॉडल मिलता है। बिजनेस को तेजी से आगे बढ़ाने में उसका वितरण नेटवर्क बहुत बड़ी भूमिका निभाता है, ऐसे में एक अच्छा वितरण नेटवर्क (network) बनाना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें ||  Bank Holidays || अभी न‍िपटा लें बैंक से जुड़ा जरूरी काम, अगले हफ्ते 4 द‍िन रहेगी बैंकों की छुट्टी

वितरण नेटवर्क

इसके लिए एक छोटी टीम बनाएं जो चैनल सेल (sale) बनाना जानती हो।अपने उद्योग संघ में जाएँ और वितरक खोजें।आप ट्रेड शो और प्रदर्शनियों में जाकर अपने लिए नए और स्थानीय वितरक भी ढूंढ सकते हैं। इसके अलावा आपके पास पहले से मौजूद वितरकों से भी आप दूसरे शहरों के वितरकों के बारे में पता कर सकते हैं। भारत आज दुनिया (world) में सबसे ज्यादा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने वाला देश बन गया है। मोबाइल ऐप्स (mobil aaps)आजकल लोगों की पहुंच में आसानी से उपलब्ध हैं, इसलिए बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए आपको अपना नया मोबाइल ऐप भी जरूर बनाना चाहिए।

यह भी पढ़ें ||  Investment tips || 21 साल में बिना कुछ ही किए ही करोड़पति हो जाएगी आपकी बेटी, बस आपको करना होगा हर महीने ये छोटा सा काम

मोबाइल एप्लिकेशन

भारत में एंड्रॉइड यूजर्स ज्यादा हैं इसलिए सबसे पहले एंड्रॉइड ऐप (Android app) बनाएं ताकि आप ज्यादा लोगों तक पहुंच सकें।

यह भी पढ़ें ||  RBI Action || नियमों का उल्लंघन करने पर RBI ने इस बैंक पर लिया बड़ा एक्शन, ग्राहकों को लगा बड़ा झटका