Futures Trading Tips: फ्यूचर्स में ट्रेडिंग से पहले जान लें ये 5 बेसिक बातें, ताबड़तोड़ कर सकते हैं कमाई!

Futures Trading Tips: क्या हम सभी लोग पहले से ही होटल की बुकिंग नहीं करते, खासकर, तब जब हमने छुट्टियों में कहीं जाने की योजना बनाई हो? ऐसा इसलिए है क्योंकि हमारा मानना है कि बुकिंग की संख्या बढ़ने पर भविष्य में कमरे की कीमतें बढ़ेंगी. सीधे शब्दों में कहें तो, हम भविष्य में कीमतों में वृद्धि और कमरे की उपलब्धता की संभावित कमी से खुद को बचा रहे हैं.

फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट क्या है?

जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट भविष्य में एक निश्चित मूल्य पर किसी परिसंपत्ति में ट्रेडिंग करने के लिए खरीदार और विक्रेता के बीच समझौता है. इन कॉन्ट्रैक्ट्स की कीमत अंडरलाइंग एसेट्स की कीमत में परिवर्तन के आधार पर बदलती है. यदि अंडरलाइंग एसेट्स की कीमत बढ़ती है, तो फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट की कीमत भी बढ़ जाती है. और, यदि अंडरलाइंग एसेट्स की कीमत कम हो जाती है, तो फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट की कीमत भी कम हो जाती है.

लॉट साइज

फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट को प्रत्येक परिसंपत्ति के लिए एक निश्चित लॉट साइज या मात्रा के साथ मानकीकृत किया जाता है. यह मूल रूप से वह न्यूनतम मात्रा है जिसका खरीदार और विक्रेता के बीच ट्रेडिंग किया जाना है. उदाहरण के लिए, निफ्टी50 फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट का लॉट आकार 50 है. इसी तरह, अन्य सूचकांकों और स्टॉक फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट का भी अपना-अपना संबंधित लॉट साइज होता है. आप यह डेटा एनएसई की वेबसाइट पर पा सकते हैं.

कॉन्ट्रैक्ट वैल्यू

फ्यूचर्स के कुल कॉन्ट्रैक्ट वैल्यू की गणना के लिए लॉट आकार महत्वपूर्ण है. कॉन्ट्रैक्ट वैल्यू की गणना अंडरलाइंग एसेट के फ्यूचर प्राइस के साथ लॉट आकार को गुणा करके की जा सकती है. उदाहरण के लिए, मान लें कि टीसीएस फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट ₹3,500 पर ट्रेडिंग कर रहा है और लॉट साइज 175 है. इसका मतलब है कि अनुबंध मूल्य 3,500 x 175 = ₹6,12,500 होगा.

मार्जिन

मार्जिन वह धनराशि है जो एक ट्रेडर को फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट के लिए ऑर्डर देने हेतु ब्रोकर और एक्सचेंज के पास रखनी होती है. मार्जिन मनी की गणना अनुबंध मूल्य के प्रतिशत के रूप में की जाती है. उपर्युक्त टीसीएस उदाहरण को ध्यान में रखते हुए, मान लें कि टीसीएस फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट खरीदने का मार्जिन 12% है. इसलिए, यदि कॉन्ट्रैक्ट का मूल्य ₹6,12,500 है, तो मार्जिन इसका 12% होगा, जो कि ₹73,500 है.

यह भी पढ़ें ||  Business Loan : बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार देगी 25 लाख रुपए तक का अनुदान, यहाँ करें आवेदन

एक्सपायरी डेट

जैसा कि हम जानते हैं, फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट एक विशिष्ट तारीख बताता है जिस दिन समझौता निष्पादित होता है. इस तिथि को एक्सपायरी डे या डेट कहा जाता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि इस तिथि के बाद कॉन्ट्रैक्ट अमान्य होता है. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि भारत में सूचकांक और स्टॉक फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट मासिक आधार पर समाप्त होते हैं. संक्षेप में, यदि आप विश्लेषण और पूर्वानुमान लगा सकते हैं कि कोई परिसंपत्ति भविष्य में किस दिशा में (ऊपर या नीचे) बढ़ेगी, तो आप फ्यूचर्स ट्रेडिंग से पैसा कमा सकते हैं.

यह भी पढ़ें ||  25+Village Business Ideas in Hindi | गांव में शुरू करें सबसे ज्यादा चलने वाला बिजनेस, रोज कमाओ 3000 हजार

Focus keyword

सुपर स्टोरी

Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : IAS सृष्टि देशमुख की मार्कशीट देखें, 10वीं-12वीं और UPSC में कितने थे नंबर
Marksheet of IAS Srishti Deshmukh : Srishti Deshmukh ने 2018 की यूपीएससी परीक्षा में 5वीं रैंक हासिल की थी। बारिश...
Railway Knowledge: यह है देश का अनोखा रेलवे स्टेशन, यहां 6 महीने से नहीं कटा टिकट, अजीब है खिड़की बंद होने की वजह
Budget News || मोदी 3.0 सरकार के बजट को लेकर सर्राफा व्यापारियों को काफी उम्मीदें, टैक्स में राहत और पेंशन की मांग
Meri Beti Mera Abhiman: दिल जीत ले गया 'मेरी बेटी मेरा अभिमान' का फर्स्ट लुक, हाथ में फावड़ा और बेटियों संग नजर आईं अंजना सिंह
कुमाऊं में आसमान से आफत की दस्तक: अगले चार दिन भारी बारिश का रेड अलर्ट!
आधार कार्ड की प्रक्रिया हुई लंबी: नए नियमों से अब 6 महीने करना होगा इंतजार
नए आपराधिक कानून में दर्ज प्राथमिकी के आरोपी को मिली जमानत: क्या था मामला ?
हाथरस हादसे में नया खुलासा: सेवादारों ने रोक दी मदद, भड़क उठे ग्रामीण युवा; बचाव में लगी देर से गई कई जानें
केंद्रीय कर्मचारियों की होगी बल्ले-बल्ले,महंगाई भत्ते की किश्त होने वाली है जारी 
मतदान ड्यूटी में अनुपस्थित 425 शिक्षकों को राहत: बीएसए ने वेतन बहाली के दिए आदेश, जल्द खातों में आएगा रुका हुआ पैसा