Lok Sabha Election 2024 || भारत का वो लोकसभा सीट, जहां 40 साल से कोई हिंदू नहीं बना सांसद

Lok Sabha Election 2024 ||  भारत का वो लोकसभा सीट, जहां 40 साल से कोई हिंदू नहीं बना सांसद
Lok Sabha Election 2024

नई दिल्ली:  हैदराबाद तेलंगाना राज्य की राजधानी है। तेलंगाना राज्य 2014 में आंध्र प्रदेश से अलग होकर भारत का 29 वां राज्य बना। हैदराबाद राज्य की राजधानी, हमेशा से लोकसभा चुनाव में सबसे अच्छी सीट रही है। AIMIM के नेता Asaduddin Owaisi इस सीट से सांसद हैं। 2004 से वे लगातार यहां चुनाव जीतते आ रहे हैं। मुसलमानों का हैदराबाद संसदीय सीट पर प्रभाव है, जो चुनावों को प्रभावित करता है। हैदराबाद संसदीय क्षेत्र के इतिहास को देखकर पता चलता है कि चुनाव अधिकतर एकतरफा हुए हैं।

Asaduddin Owaisi जीत से आश्वस्त हैं

Aggarwal
अबादुद्दीन ओवैसी के पिता सुलतान सलाउद्दीन ओवैसी, इस क्षेत्र से सांसद थे। 1984 से 1999 तक वे यहां सांसद रहे, यानी AIMIM पिछले चार दशक से हैदराबाद सीट पर हावी रहा है। जो भी नेता ओवैसी के खिलाफ चुनाव लड़े, वे सब हारे; सुल्तान ओवैसी से लेकर Asaduddin Owaisi तक, वे हमेशा अपनी जीत पर आश्वस्त दिखे। (2011 की जनगणना के अनुसार), हैदराबाद में मुसलमानों की आबादी लगभग 84 प्रतिशत है. हालांकि, लगभग ६० प्रतिशत लोगों को मुसलमान बताया जाता है। इतिहास देखते हुए, हैदराबाद आजादी के समय निजामों के अधीन था, जो भारत में शामिल होने से इनकार करते थे। सरदार वल्लभ भाई पटेल की कोशिशों से निजाम भारत में शामिल हो गया. 1948 में सेना की कोशिशों से हैदराबाद भारत का हिस्सा बन गया। उस समय हैदराबाद में मीर उस्मान अली निजाम था।

पूरे देशभर में इन दिनों लोकसभा चुनाव की धूम है। चुनाव को लोकतंत्र का महापर्व कहा जाता है। 1 जून 2024 को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए वोट डाले जाएंगे और 4 जून 2024 को नतीजे आएंगे। लोकसभा चुनाव की तारीख भारत में कई लोकसभा सीट ऐसी हैं, जो काफी चर्चा में रहती हैं। हैदराबाद लोकसभा सीट भी इन्हीं में से एक है। हैदराबाद लोकसभा सीट पर 40 सालों से ओवैसी फैमिली का दबदबा है। यूं कहें तो पिछले 40 सालों में एक हिंदू हैदराबाद का सांसद नहीं बन पाया है।

ओवैसी फैमिली का दबदबा

बता दें कि हैदराबाद लोकसभा सीट को ओवैसी परिवार की परंपरागत सीट माना जाता है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के मुखिया लगातार 4 बार से यहां के सांसद हैं। 4 बार से सांसद ओवैसी परिवार के सदस्य ने सबसे पहले 1984 में हैदराबाद लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की थी। 1984 में Asaduddin Owaisi के पिता सलाहुद्दीन ओवैसी ने यहां से जीत हासिल की थी।  सलाउद्दीन ओवैसी ने 1984 से 1999 के बीच लगातार 6 बार हैदराबाद लोकसभा सीट से जीत दर्ज की थी। उनके निधन के बाद Asaduddin Owaisi 2004 में पहली बार इस सीट से चुनाव मैदान में उतरें। 2004 में पहली बार सांसद बता दें कि Asaduddin Owaisi भी 2004 से लगातर हैदराबाद लोकसभी सीट से जीतते आ रहे हैं और पांचवी बार चुनावी मैदान में हैं। पांचवी बार चुनावी मैदान में हैदराबाद लोकसभा सीट के तहत 7 विधानसभा सीटें आती हैं। इसमें से 6 विधानसभा सीटों पर एआईएमआईएम का कब्जा है।

यह भी पढ़ें ||  मोदी की रैलियों में उमड़ेगा अपार जनसमूह, अपने नेता को सुनने आएंगे हिमाचलवासी : जयराम ठाकुर

Focus keyword

Tags:

सुपर स्टोरी

Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग
Viral Video News ||  जैसा कि कहा जाता है, हौसला होने पर अवसर मिलते हैं- गुजरात के तीन फीट के...
Success Story || दर्जी की बिटिया ने छू लिया 'आसमान', गरीबी से उठकर बनी जज
Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम
Driving Licence New Rules || 1 जून से लागू होंगे नए नियम, हो जाएं सावधान वरना देना होगा 25 हजार का जुर्माना
Credit Card का करते हैं इस्तेमाल तो भूलकर भी न करें ये गलती, क्रेडिट स्कोर हो जाएगा खराब
PHD के छात्र ने बनाया जबरदस्त रिकॉर्ड, अपने नाम किये 1000 से ज्यादा सर्टिफिकेट, यहां दर्ज हुआ नाम
Premanand ji Maharaj || प्रेमानंद महाराज ने बताया, भूलकर ना रखें ये दो चीज बकाया,
ATM Scam : कभी भी गलती से ATM मशीन के पास न करें यह काम, एक गलती से हो जाएंगे कंगाल, भयंकर स्कैम चल रहा
Aadhaar Related Crimes : जेल पहुंचा सकती है आधार से जुड़ी ये गलती, 10 लाख तक जुर्माना
Aadhaar Card After Death || मौत के बाद आधार कार्ड का क्‍या होगा? जानिए कैसे करें सरेंडर या बंद