Himachal News || गजब हो गया, हिमाचल में बेटी की परीक्षा के लिए पिता ने 4 फीट बर्फ में बना दिया 4 किमी रास्ता

Himachal News || गजब हो गया, हिमाचल में बेटी की परीक्षा के लिए पिता ने 4 फीट बर्फ में बना दिया 4 किमी रास्ता
Himachal News || गजब हो गया, हिमाचल में बेटी की परीक्षा के लिए पिता ने 4 फीट बर्फ में बना दिया 4 किमी रास्ता

मनाली। बेटी की खुशी के लिए एक पिता नाममुकिन काम को भी हसंते हंसते हुए कर जाता है। ऐसा ही कुछ हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिला में एक पिता ने कर दिखाया है। बेटी के लिए इस पिता ने चार फीट बर्फ की मोटी परत पर चार किलोमीटर तक रास्ता बना दिया। मामला कुल्लू जिला के पर्यटन स्थल मनाली के खंगसर की है। यहां 12वीं में पढ़ने वाली एक छात्रा ऋषिका का पेपर था, लेकिन बाहर बर्फ की 4 फीट मोटी चादर ने उसका रास्ता रोक दिया। जिसके चलते बेटी उदास हो गई और उसकी आंखों में आंसू आ गए। 

मनाली के खंगसर में बर्फ के बीच बनाया रास्ता

जब पिता ने बेटी को चिंता में डूबे हुए आंसू बहाते हुए देखा तो वह बेटी को परीक्षा केंद्र पहुंचाने के लिए निकल पड़े। ऋषिका के पिता रमेश ने 4 फीट मोटी बर्फ की परत में से बेटी के लिए चार किलोमीटर तक रास्ता बनाया और बेटी को परीक्षा केंद्र तक पहुंचाया। जिससे ऋषिका अपनी 12वीं की परीक्षा दे पाई। 

यह भी पढ़ें ||  Chamba News || चुनावों के दौरान 'राज माता' को आई भरमौर की जनता याद, जीत दिलाने वालों को भूली संसद

4 फीट मोटी बिछी थी बर्फ की परत

बता दें कि हिमाचल में तीन दिन तक भारी बारिश और बर्फबारी से दुश्वारियां बढ़ गई हैं। प्रदेश के लाहौल स्पीति जिला सहित कई अन्य क्षेत्रों मंे भारी बर्फबारी हुई है। जिससे कई सड़क मार्ग बंद हो गए हैं। मनाली के खंगसर में भी 4 फीट मोटी बर्फ की चादर बिछी हुई थी। लेकिन यह बर्फ एक पिता के हौंसले को नहीं डगमगा पाई और पिता ने बेटी को परीक्षा केंद्र तक पहुंचा दिया।

यह भी पढ़ें ||  Loksabha election 2024 || मंडी लोकसभा सीट से BJP उम्मीदवार कंगना रनौत का नया अंदाज, लोगों के साथ लगाए ठुमके

परीक्षा के लिए मंजिल तक पहुंचाई बेटी

पिता रमेश ने बेटी को परीक्षा केंद्र में जाने के लिए समय से पहले निकलने को कहा। जिसके बाद आगे आगे पिता व पीछे पीछे बेटी ने एक दूसरे के सहारे बर्फ से ढके चार किलोमीटर सफर को पार कर लिया।

यह भी पढ़ें ||  Himachal Weather Update || हिमाचल प्रदेश में तीन दिनों तक भारी बारिश व बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट हुआ जारी,

हालांकि पहले बर्फ की मोटी परत को देख कर पिता रमेश भी चिंता में पड़ गए थे। लेकिन उन्होंने हौंसला नहीं छोड़ा और बेटी के साथ उसकी परीक्षा दिलवाने के लिए निकल पड़े। आगे आगे चलते हुए वह बेटी के लिए रास्ता बनाते गए और उसी रास्ते से पीछे पीछे बेटी ऋषिका चलती गई। बता दें कि 3 दिन से लगातार हिमपात का क्रम जारी रहने से लाहौल घाटी में एक घर से दूसरे घर में पहुंचना चुनौती बना हुआ है। हालांकि 4 दिन बाद सोमवार को धूप खिली जिससे कुछ राहत मिली लेकिन ग्रामीणों को 4 फुट बर्फ की मोटी परत पर रास्ता बनाने में भारी दिक्कत हुई। ऋषिका के पिता ने बताया कि बेटी की परीक्षा थी, लेकिन बाहर बर्फ की मोटी चादर बिछी हुई थी। फिर भी उन्होंने हिम्म्मत से काम लेते हुए रास्ता बनाया और बेटी को उसकी मंजिल तक पहुंचाया।

ट्रेंडिंग

इसके लिए जिगरा चाहिए !  कौन हैं यह बिजनेसमैन, 200 करोड़ की संपत्ति की दान, 'अब मांगेंगे भीख' इसके लिए जिगरा चाहिए ! कौन हैं यह बिजनेसमैन, 200 करोड़ की संपत्ति की दान, 'अब मांगेंगे भीख'
दिल्ली डेस्क:  बिजनेसमैन ने अनोखी मिसाल पेश की आज के समय में लोग धर्म के नाम पर पैसा कमा रहे...
UPSC Success story || लगातार 4 बार क्लियर किया था UPSC एग्जाम,  अब प्रदेश में बना कमिश्नर
Sandalwood cultivation || ये है दुनिया का सबसे महंगा पौधा! 1 एकड़ की खेती में 30 करोड़ की कमाई, जानें कैसे मिलेगा मुनाफा
Mental Health || मेंटल हेल्थ से दिमाग की सेहत का कड़वा सच, ऐसे दोनों का ख्याल नहीं रखा तो....
Trending Quiz || वो कौन-सी चीज है, जो पानी में डालने पर गर्म हो जाती है?
Salman Khan House Firing News || सलमान खान के घर के बाहर ताबड़तोड़ फायरिंग, बाइक से आए थे हमलावर, एक्टर को किससे खतरा?