Himachal News || लंबित भर्ती परीक्षा परिणाम को लेकर सीएम सुक्खू ने किया बड़ा ऐलान, हिमाचल के युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी

Himachal News || लंबित भर्ती परीक्षा परिणाम को लेकर सीएम सुक्खू ने किया बड़ा ऐलान, हिमाचल के युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी
Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu ।।Photo By Patrika Desk

Himachal News || जेओए (आईटी) पोस्ट कोड 817  के अभ्यर्थियों का एक प्रतिनिधिमंडल वीरवार को हिमाचल प्रदेश के Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu से मिला इस दौरान उन्होंने कैबिनेट की फैसले पर प्रदेश के Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu का आभार जताया हुआ है। इस दौरान Chief Minister Sukhwinder Singh Sukhu  ने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के कल्याण के लिए कई प्रकार की योजनाएं व प्रतिबद्ध तरीके से उनके हितों पर कार्य कर रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से अपने डेढ़ साल के कार्यकाल में प्रदेश के तमाम युवाओं के लिए कई प्रकार की योजनाएं वह कई विभागों में भर्ती शुरू कर दी गई है । और उन्हें प्रतिबद्ध तरीके से हर कानूनी पहलू को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है। ओके ओवर में अभ्यर्थियों को कहा कि जेओए (आईटी) पोस्ट कोड 817  परीक्षा का परिणाम घोषित करने के दृष्टिगत प्रदेश सरकार ने कई कानून पहलुओं का अध्ययन किया और विधि विशेषज्ञों का परामर्श भी लिया गया वहीं सरकार की ओर से इसको लेकर कैबिनेट की एक सब कमेटी का गठन किया गया था और उसी के आधार पर मंत्रिमंडल में इस फैसले पर मोहर प्रदेश सरकार की ओर से लगाई गई है।

बता दें कि हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने पोस्ट कोड-817 की परीक्षा ली थी, लेकिन विजिलेंस जांच के कारण परिणाम लंबित रहे। प्रदेश सरकार ने इस मामले को हल करने के लिए उपमुख्यमंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय उपसमिति बनाई। इस उप समिति में उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान, राजस्व मंत्री जगत सिंह नेगी, लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह और आयुष मंत्री यादविंद्र गोमा शामिल थे।

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू से आज ओक ओवर शिमला में जेओए (आई टी) पोस्ट कोड 817 के अभ्यर्थियों के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की और इस परीक्षा का परिणाम घोषित करने के निर्णय के लिए आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के कल्याण और उनके हितों की रक्षा के लिए वचनबद्ध है और इस दिशा में निरन्तर सार्थक प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जेओए (आई टी) परीक्षा का परिणाम घोषित करने के दृष्टिगत प्रदेश सरकार ने विभिन्न कानूनी पहलुओं का अध्ययन किया और विधि विशेषज्ञों का परामर्श भी लिया। सरकार ने इसके लिए एक कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया और उसकी संस्तुति के आधार पर मंत्रिमंडल ने निर्णय लिया।

वर्ष 2020–2021 में भंग किए गए प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने पोस्ट कोड 817 JOA IT के तहत 1,756 पदों के लिए आवेदन मांगे गए। इन पदों के लिए 1.07 लाख लोगों ने आवेदन किया था। इसके बाद लिखित परीक्षा 21 मार्च 2021 को हुई, और टाइपिंग परीक्षा 15 जुलाई से 2 मार्च 2022 तक हुई। 4,332 अभ्यर्थियों को 15 अंकों की मूल्यांकन परीक्षा दी गई। 1 अगस्त से 31 अगस्त 2022 तक चयन आयोग के कार्यालय में मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन किया गया था। मूल्यांकन परीक्षा करीब 1800 अभ्यर्थियों ने पारित की है।

यह भी पढ़ें ||  Monsoon Update || इस दिन मानसून देगा दस्‍तक, अगले 48 घंटे इन राज्यों में मूसलाधार बारिश

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ हर समस्या का समाधान करने के लिए प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए विकासोन्मुखी दृष्टिकोण के साथ सरकार दृढ़ता से निर्णय लेकर निरन्तर आगे बढ़ रही है। इस अवसर पर मुख्य संसदीय सचिव संजय अवस्थी, विधायक संजय रतन, मुख्यमंत्री के ओएसडी रितेश कपरेट, पार्षद आर. आर. वर्मा और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें ||  हिमाचल में भाजपा की रैली में शामिल होने पर ​शिक्षक को किया सस्पेंड, फोटो वायरल होने के बाद हुआ एक्शन