Saikesh Gaud Success Story || IIT से पढ़ाई पूरी कर बेचना शुरु कर दिया चिकन, अब हर महीने हो रहा 1 करोड़ से ज्यादा का कारोबार

Saikesh Gaud Success Story || IIT से पढ़ाई पूरी कर बेचना शुरु कर दिया चिकन, अब हर महीने हो रहा 1 करोड़ से ज्यादा का कारोबार

Saikesh Gaud Success Story || हर व्यक्ति चाहता है कि वह पढ़ाई करने के बाद एक अच्छी सैलरी वाली नौकरी पाए। इस लेख में आज हम एक ऐसे व्यक्ति से चर्चा करेंगे जिन्होंने पहले आईआईटी से पढ़ाई पूरी की और 28 लाख रुपये की नौकरी पाई। बहुत से लोगों को सब कुछ मिलने के बाद भी सफलता नहीं मिलती। कंट्री चिकन कंपनी का संस्थापक भी यही व्यक्ति है। सैकेश गौड़ हैं। सैकेश गौड़ ने देश के बेहतरीन संस्थान आईआईटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की और वहां से 28 लाख रुपये के पैकेज लेकर एक टेक कंपनी में काम करने लगे लेकिन उनको उनकी खुद ही मंजिल तलाश रही थी।

सैकेश गौड़ स्वयं काम करने का मौका खोज रहे थे। दो लोगों ने उनका साथ दिया: हेमाम्बर रेड्डी और मोहम्मद सामीउद्दीन। हेमाम्बर रेड्डी ने बहुत सारी जानकारी जुटाकर मुर्गी पालन का उद्यम करने का विचार बनाया। इसी दौरान वे गौड़ और समाउद्दीन से मिले। इन तीनों की बातचीत ने गौड़ को मुर्गी पालन के बजाय काफी बड़े स्तर पर चिकन पालन करने का विचार दिलाया। इस तरह, वर रिटेल मीट क्षेत्र में आ गए और नौकरी छोड़ दी।

यहां से मिली मदद || Saikesh Gaud Success Story ||

हैदराबाद में स्थित आईसीएआर-नेशनल मीट रिसर्च इंस्टीट्यूट में भी एक इन्क्यूबेशन प्रोग्राम चल रहा था। इससे गौड़ को बहुत फायदा हुआ। यहां से गौड़ को रिटेलिंग यूनिट और गुड मैन्युफैक्टरिंग प्रैक्टिसेस की स्थापना के लिए तकनीकी मार्गदर्शन मिला। 2020 में, तीनों ने मिलकर कंट्री चिकन कंपनी की स्थापना की। सैकेश गौड़ ने एक साफ और हाइजैनिक चिकन स्टोर शुरू करना चाहा। उन्होंने अपने उत्पादों को गिफ्ट पैकेज में बेचना शुरू किया। नए पैकिंग तरीके ने लोगों का ध्यान खीचा और उनके उत्पादों को काफी सराहा गया।

Saikesh Gaud Success Story || IIT से पढ़ाई पूरी कर बेचना शुरु कर दिया चिकन, अब हर महीने हो रहा 1 करोड़ से ज्यादा का कारोबार || Photo By: Patrika News Himachal
Saikesh Gaud Success Story || IIT से पढ़ाई पूरी कर बेचना शुरु कर दिया चिकन, अब हर महीने हो रहा 1 करोड़ से ज्यादा का कारोबार || Photo By: Patrika News Himachal

किसानों से की सीधी खरीद || Saikesh Gaud Success Story ||

साथ ही, कंपनी ने प्रगति नगर और कुकटपल्ली में अपनी पहली ऑथेन्टिक चिकन दुकानों को खोला था। तकरीबन सत्तर लोगों को काम मिला। यही नहीं, कंट्री चिकन कंपनी ने लगभग १५ हजार पॉल्ट्री फॉर्मर्स से डील करने का एक नेटवर्क बनाया और उनसे सीधे चिकन खरीदने लगे। तीन प्रकार के तेलंगाना कंट्री चिकन पर कंपनी ने ध्यान दिया है। वारियर, कडकनाथ और असिल इसी प्रकार हैं।

यह भी पढ़ें ||  Business women sabina Chopra || सबीना चोपड़ा: बनाया भारत में Yatra.com जैसा कमाल का ट्रैवल प्लेटफॉर्म

कितना हुई रेवेन्यू || Saikesh Gaud Success Story ||

वहीं, 2022 में कंपनी ने 3 लाख रुपये की मंथली बनाई थी। 1 साल के भीतर, अप्रैल 2023 तक, उसका रेवेन्यू 1.2 करोड़ रुपये मंथली हो गया। गौरतलब है कि पिछले वर्ष कंपनी ने 5 करोड़ रुपये की कमाई की थी। कंट्री चिकन का इस साल का लक्ष्य 50 करोड़ का रेवेन्यू जनरेट करने का है।

Focus keyword

Tags:

सुपर स्टोरी

Motivational || देवी चित्रलेखा जी: 6 वर्ष की उम्र से शुरू किया धार्मिक कथावाचन, आज देश के लिए बन चुकी हैं प्रेरणा Motivational || देवी चित्रलेखा जी: 6 वर्ष की उम्र से शुरू किया धार्मिक कथावाचन, आज देश के लिए बन चुकी हैं प्रेरणा
आपने सोशल मीडिया पर कथावाचक देवी चित्रलेखा जी के बारे में देखा और पढ़ा होगा, देवी चित्रलेखा जी की कहानियां...
IPS Anshika Verma || बला की खूबसूरत हैं यूपी कैडर की यह IPS, बिना कोचिंग क्रैक किया था UPSC
Devi Chitralekha || देवी चित्रलेखा की 20 साल की उम्र में हुई थी शादी, जानें कथावाचिका के पति क्या करते
HDFC Bank Net Banking Update || HDFC Bank के ग्राहकों के लिए नया अपड़ेट, इतने वक्त तक Net Banking से लेकर UPI तक कुछ नहीं चलेगा
Dr Ganesh Baraiya || तीन फुट के डॉक्टर साब, जब करने पहुंचे इलाज तो चकरा गया मरीजों का दिमाग
Success Story || दर्जी की बिटिया ने छू लिया 'आसमान', गरीबी से उठकर बनी जज
Bank Off Baroda Good News || बैंक ऑफ बड़ौदा के धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने कर दिया बड़ा काम
Driving Licence New Rules || 1 जून से लागू होंगे नए नियम, हो जाएं सावधान वरना देना होगा 25 हजार का जुर्माना
Credit Card का करते हैं इस्तेमाल तो भूलकर भी न करें ये गलती, क्रेडिट स्कोर हो जाएगा खराब
PHD के छात्र ने बनाया जबरदस्त रिकॉर्ड, अपने नाम किये 1000 से ज्यादा सर्टिफिकेट, यहां दर्ज हुआ नाम