Yogi Adityanath: यूपी में हर रोड पर 5 साल की मिलेगी गारंटी, सड़क ठेकेदारों के खिलाफ सीएम योगी का फरमान

Yogi Adityanath: उत्तर प्रदेश में घटिया सड़क को लेकर निर्माता एजेंसी और ठेकेदारों पर अब सीधा शिकंजा कसेगा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने सड़क की गुणवत्ता को लेकर गारंटी और वारंटी का नया नियम जारी कर दिया है. Yogi Adityanath: यूपी में अब हर सड़क ठीक है। ये गारंटी सड़कों को खराब करने पर भुनाई जा […]

Yogi Adityanath: उत्तर प्रदेश में घटिया सड़क को लेकर निर्माता एजेंसी और ठेकेदारों पर अब सीधा शिकंजा कसेगा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने सड़क की गुणवत्ता को लेकर गारंटी और वारंटी का नया नियम जारी कर दिया है.

Yogi Adityanath: यूपी में अब हर सड़क ठीक है। ये गारंटी सड़कों को खराब करने पर भुनाई जा सकती हैं। इसका अर्थ है कि सड़क निर्माण एजेंसी या ठेकेदार को ही मरम्मत या दोबारा बनाना होगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सड़क सुधार की समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिया। यूपी के मुख्यमंत्री ने राज्य की सड़कों को गड्ढामुक्त करने के लिए विशेष अभियान चलाने को भी कहा है. यह नवंबर में दीपावली से पहले किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष का मानसून असाधारण है। ज्यादातर जिलों में लगातार बारिश होने की संभावना है, इसलिए नवंबर में दीपावली से पहले पूरे राज्य में सड़क गड्ढामुक्त अभियान चलाया जाए। जहां बारिश होती है, वहां बोल्डर लगाकर रोलर चलाकर लोगों को बचाया जा सकता है। प्रदेश में लगभग चार लाख किलोमीटर की सड़कें हैं, जिनमें लोक निर्माण विभाग (PWD), एनएचएआई (NHAI), मंडी परिषद, सिंचाई, ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज, चीनी उद्योग और गन्ना विकास शामिल हैं।

यह भी पढ़ें ||  Himachal Politics || जनता के बीच अपना भरोसा खो चुकी है कांग्रेस, बहुमत के बाद भी नही जीत पाई राज्यभा का चुनाव: बिंदल

CM योगी ने कहा कि अगर मेट्रो एक्सप्रेसवे जैसी बड़ी परियोजना से सड़कें खराब होती हैं तो इसके लिए संबंधित विभाग को जवाब देना होगा। गड्ढा मुक्त अभियान में सड़कों के लिए पर्याप्त धनराशि है। सभी विभाग सुनिश्चित करें कि सड़क बनाने वाली एजेंसी या ठेकेदार अगले पांच वर्ष तक सड़कों का रखरखाव भी करेगा। इसकी शर्तें भी तय की जाएंगी। सीएम ने कहा कि इंजीनियर निर्माण कार्य की रीढ़ हैं. कहीं भी अभियंता की कमी न हो और जरूरत पड़े तो आउटसोर्सिंग की जाए.

यह भी पढ़ें ||  Big News Himachal || पिता वीरभद्र सिंह के अपमान पर भावुक हुए विक्रमादित्य सिंह, बीजेपी में जाने की हो सकती है तैयारी

मंत्रियों और अधिकारियों सड़क परियोजनाओं की समीक्षा करें. इंजीनियरों की तैनाती केवल मेरिट के आधार पर ही किया जाए. यह तय करें कि किसी भी सार्वजनिक परियोजना में माफिया या अपराधी छवि वाले लोगों को ठेका न मिले. ऐसे अपराधियों के करीबी रिश्तेदारों और गैंग के गुर्गों को भी ठेके या पट्टा हासिल करने से दूर रखा जाए. गड्ढा मुक्त और नई सड़क निर्माण की जियो टैगिंग कराई जाए, ताकि घपले की कोई गुंजाइश न रहे. इसे पीएम गतिशक्ति पोर्टल से जोड़ा जाए.

यह भी पढ़ें ||  Himachal Politics || हिमाचल कांग्रेस में बगावत के मास्टरमाइंड है कैप्टन अमरिंदर, शाही परिवार के साथ मिलकर किया खेल

ट्रेंडिंग

Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर अब अरबपति तक पीने आते हैं चाय
Dolly Chaiwala Story || चाय के चक्कर में छोड़ी पढ़ाई, स्वाद और अंदाज से मिली शोहरत, 'डॉली' की टपरी पर...
IPS Officer Success Story || IPS पति-पत्नी का अनोखा अंदाज, काम करने का अलग अंदाज, लोग करते हैं तारीफ
Success Story || 42 साल की मां ने अपने 24 साल के बेटे के साथ पास की PCS की परीक्षा, दोनों एक साथ बने अफसर
PPI Card For Public Transport || RBI ने दी बैंको को दी ये मंजूरी, रेल, मेट्रो, बस, पार्किंग पेमेंट होगा आसान
Success Story || 1.5 लाख महीने की सरकारी नौकरी छोड़ बने IAS, जॉब के साथ की तैयारी, UPSC में पाई 8वीं रैंक
kalyanaraman Success Story || कभी कर्ज लेकर शुरू की थी सोने की दुकान, आज खड़ी कर दी 17,000 करोड़ की कल्याण ज्वेलर्स कंपनी