हिमाचल में इस ​शिक्षकों ने सुक्खू सरकार को दी चेतावनी, मांग पूरी नहीं हुई तो इस दिन होगा पेन डाउन व परिवार सहित सत्याग्रह आंदोलन

Himachal Pradesh SMC Teacher: हिमाचल प्रदेश में एसएमसी अध्यापकों ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को तीस सितंबत तक की चेतावनी दी हुई है। यदि प्रदेश की कांग्रेस सरकार सभी एसएमसी अध्यापकों के पॉलसी का गठन नहीं करती है, तो उसके बाद पूरे पदेश में पैन डाउन व भूख हड़ताल शुरू हो जाएगी। Himachal Pradesh SMC […]

Himachal Pradesh SMC Teacher: हिमाचल प्रदेश में एसएमसी अध्यापकों ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को तीस सितंबत तक की चेतावनी दी हुई है। यदि प्रदेश की कांग्रेस सरकार सभी एसएमसी अध्यापकों के पॉलसी का गठन नहीं करती है, तो उसके बाद पूरे पदेश में पैन डाउन व भूख हड़ताल शुरू हो जाएगी।

Himachal Pradesh SMC Teacher: हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में एसएमसी के माध्यम से नियुक्त 2555  शिक्षकों को ३० सितंबर तक नियमित नीति में लाने का सरकार का समय दिया गया है। ऐसा नहीं होने पर शिक्षकों ने 2 अक्तूबर से पेन डाउन हड़ताल और परिवार के साथ सत्याग्रह आंदोलन पर जाने की चेतावनी दी है। शिक्षकों का कहना है कि दूरदराज के स्कूलों में 2012 से निरंतर सेवाएं देने के बावजूद शोषण हो रहा है। SAMC शिक्षकों ने पीटीए, पैट, पैरा और उर्दू-पंजाबी पीरियड आधार पर लगे शिक्षकों के लिए नियमित नियमों की मांग की है।

यह भी पढ़ें ||  Himachal News || पालमपुर मामले में CM सुक्खू बोले इस जानलेवा हमले में घायल हुई छात्रा के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

Himachal Pradesh SMC Teacherने शिक्षा सचिव को एक अल्टीमेटम दिया :
एसएमसी शिक्षक संघ के अध्यक्ष सुनील शर्मा, उपाध्यक्ष निर्मल ठाकुर, महासचिव बेला राम वर्मा, सचिव वेद प्रकाश ठाकुर और सुरेश चौहान ने मंगलवार को राजधानी शिमला के प्रेस क्लब में एक प्रेस वार्ता में कहा कि संघ ने शिक्षा सचिव को एक अल्टीमेटम दिया है। उनका कहना था कि 2012 से प्रदेश के दूरदराज के क्षेत्रों में 2555 एसएमसी शिक्षक काम कर रहे हैं। सरकार ने कोई नीति नहीं बनाई, इसलिए वे अभी भी शोषण के शिकार हैं।

सरकार ने कई श्रेणी के शिक्षकों को बहुत कम समय में नियमित किया है। SMC शिक्षक बहुत कम वेतन पर शिक्षा विभाग में सभी काम कर रहे हैं। उनका कहना था कि प्रदेश में सैकड़ों स्कूल सिर्फ एसएमसी शिक्षकों से चल रहे हैं। उनका कहना था कि शिक्षा विभाग को 30 सितंबर तक समय दिया गया है कि एसएमसी शिक्षकों को नियमित नीति में शामिल किया जाए। ऐसा नहीं करने पर एसएमसी शिक्षक दो अक्तूबर से अपने परिवार और बच्चों के साथ सत्याग्रह, धरना प्रदर्शन और पेन डाउन स्ट्राइक करने के लिए मजबूर होंगे।

यह भी पढ़ें ||  पालमपुर मामले में बड़ा खुलासा, युवती ने कुछ दिनों बात नहीं की तो पागल हुआ युवक, परिजनों के किया विरोध

ट्रेंडिंग

Driving License New Rules || ड्राइविंग लाइसेंस के बिना इन गाड़ियों को चला सकते हैं आप, नहीं लगाने होंगे RTO के चक्कर Driving License New Rules || ड्राइविंग लाइसेंस के बिना इन गाड़ियों को चला सकते हैं आप, नहीं लगाने होंगे RTO के चक्कर
Driving License New Rules ||  अगर आप भी बिना ड्राइविंग लाइसेंस के सड़क पर दो पहिया या चार पहिया वाहन...
Chasma Kaise Hataye || चश्मा हटाना चाहते हैं या आंखों की रोशनी करनी है तेज, तो आज से ही शुरू कर दें इन फलों को खाना,
Retirement Tips || अगर नहीं करेंगे ये 4 गलतियां, तो बुढ़ापे में आपके पास होगा पैसा ही पैसा
सालाना 1 करोड़ की जॉब ठुकरा कर शुरू किया अपना बिज़नेस, आज हर महीने है करोड़ों की कमाई
भारत के इस शहर में रखा है दुनिया का सबसे बड़ा चाकू, कीमत जानकर आप भी हो जाओगें हैरान
Cheapest Hill Station In Himachal Pradesh || कभी घूमें हैं हिमाचल प्रदेश के इन सस्ते हिल स्टेशनों में? फैमिली के साथ निपटा सकते हैं पूरा ट्रिप

ENG \ Personal Finance